Tuesday, November 29, 2022

print

व्यवसायिक हित स्वतंत्र पत्रकारिता पर हावी, लोकतंत्र से समझौता:चीफ जस्टिस

चीफ जस्टिस एनवी रमना ने मीडिया पर व्यापारिक घरानों के वर्चस्व पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब एक मीडिया हाउस के अन्य व्यवसायिक हित होते हैं, तो वह बाहरी दबावों के प्रति संवेदनशील हो जाता है। अक्सर, व्यवसायिक हित स्वतंत्र पत्रकारिता...

केंद्रीय बजट-2022-23: किसानों, मजदूरों और लघु-मध्यम उद्योगों को सरकार ने दिखाया ठेंगा

आज केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा वित्त वर्ष 2022-23 के लिये केंद्रीय बजट पेश किया गया। वित्तमंत्री ने इस बजट को 'अमृत काल' के अगले 25 वर्षों का ब्लू प्रिंट बताया। अमृत काल में सरकार ने कंपनियों के लिए...

जनता के ‘मन की बात’ से घबराये मोदी की सोशल मीडिया को उससे दूर करने की क़वायद

करीब दस दिन पहले पत्रकार मित्र आरज़ू आलम से फोन पर बात हुई। पहले कोविड-19 और फिर टाई-फाईड से जूझ रहे आरज़ू से उनके स्वास्थ्य को लेकर शुरू हुई औपचारिक बातचीत कैसे राजनीतिक बातचीत में बदल गई पता ही...

सोशल मीडिया की चर्चित शख्सियत गिरीश मालवीय समेत नौ लोगों को पहला क्रांतिकारी शिव वर्मा पुरस्कार

कल 15 अगस्त को प्रथम पीपुल्स मिशन क्रांतिकारी शिव वर्मा पुरस्कार 2020 की घोषणा की गई । पुरस्कार निर्णायक समिति ने पत्रकारिता की विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कार के लिए नामों का चुनाव किया। फोटोजर्नलिज्म श्रेणी में असम की  फोटोग्राफर :...

क्यों पत्रकारिता के भीष्म पितामह हैं विनोद दुआ?

विनोद दुआ को पत्रकारिता का भीष्म पितामह कहे जाने पर प्रतिक्रियाएं लगातार मिली हैं। असहमति के सुर अधिक मुखर हैं। मगर, जो प्रतिक्रियाएं नहीं आयी हैं उनमें सहमति के स्वर की नाद मैं ढूंढता हूं। सवाल उठाने वालों ने...
- Advertisement -spot_img

Latest News

कस्तूरबा नगर पर DDA की कुदृष्टि, सर्दियों में झुग्गियों पर बुलडोजर चलाने की तैयारी?

60-70 साल पहले ये जगह एक मैदान थी जिसमें जगह-जगह तालाब थे। बड़े-बड़े घास, कुँए और कीकर के पेड़...
- Advertisement -spot_img