Wednesday, June 29, 2022

diary

नार्थ ईस्ट डायरी: दो बार भारतीय नागरिक घोषित, असम के परिवार को अब तीसरी बार साबित करना होगा कि वे भारतीय हैं

8 जून को, 66 वर्षीय नाता सुंदरी मंडल को सोनितपुर फॉरेनर्स ट्रिब्यूनल से एक नोटिस मिला, जिसमें दावा किया गया था कि वह 1 जनवरी, 1966 और 23 मार्च, 1971 के बीच अवैध रूप से भारत में प्रवेश कर...

नॉर्थ ईस्ट डायरी: केंद्र की निरंकुश सत्ता, षड्यंत्र और उसके प्रतिशोध का नया शिकार हैं जिग्नेश मेवानी

असम पुलिस द्वारा गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी की गिरफ्तारी केंद्र सरकार के आलोचकों के खिलाफ प्रतिशोधी और मनमानी कार्रवाई का एक और उदाहरण है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में एक ट्वीट के सिलसिले में कोकराझार जिले...

नॉर्थ-ईस्ट डायरी: स्कूलों में हिंदी को अनिवार्य विषय बनाने के केंद्र के कदम का पूर्वोत्तर में हो रहा विरोध

समूचे पूर्वोत्तर ने इस क्षेत्र पर हिंदी को "थोपने" के केंद्र के कदम के खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर किया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने 8 अप्रैल को कहा था कि पूर्वोत्तर के आठ राज्यों में 10वीं तक...

बस्तर डायरी-3: जहां आंख खोलने से पहले नवजातों का होता है मौत से सामना

बस्तर। दर्द से कराहती एक गर्भवती महिला को चार लोग दुर्गम जंगलों के रास्ते डोले में बैठा कर ले जा रहे हैं। रास्ते की कठिनाइयों को पार करते इन लोगों ने समय पर इस महिला को अस्पताल पहुंचा दिया...

नॉर्थ ईस्ट डायरी: नगा शांति समझौते के रास्ते में प्रमुख बाधा बना हुआ है फ्रेमवर्क एग्रीमेंट

नगा शांति समझौते को अंतिम रूप देने के लिए केंद्र और नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालिम (इसाक-मुइवा) के बीच 2015 का फ्रेमवर्क एग्रीमेंट अब दोनों पक्षों के बीच पुराने नगा मुद्दे  के एक समझौते तक पहुंचने और इसका स्थायी...

नार्थ ईस्ट डायरी: कृषि कानून निरस्त होने के बाद असम में सीएए विरोधी आंदोलन फिर से शुरू करेंगे जन संगठन

तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को निरस्त करने के नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के फैसले के बाद असम में एक बार फिर से सीएए (नागरिकता संशोधन अधिनियम) के विरोध की आवाज गूंज रही है और राजनीतिक दलों सहित...

नॉर्थ ईस्ट डायरी: असम में दो से ज्यादा बच्चे हुए तो सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं

असम में दो से अधिक बच्चों के माता-पिता को सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित किया जा सकता है। मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने शनिवार को कहा कि असम सरकार राज्य की योजनाओं में लाभ लेने के लिए चरणबद्ध...

नॉर्थ ईस्ट डायरी:त्रिपुरा जनजातीय क्षेत्र स्वायत्त जिला परिषद के चुनाव में भाजपा को बड़ा झटका

तीन साल पहले भाजपा ने उत्तर-पूर्व के छोटे राज्य त्रिपुरा में वाम दलों को उखाड़ फेंकने और कांग्रेस को अप्रासंगिक बनाने में कामयाबी हासिल की थी। लेकिन अब इतने कम समय में ही भगवा लहर को बड़ा झटका लगा...

डॉ. सुनीलम, एक आंदोलनकारी की डायरी

मेरे लिए 2020 का वर्ष सिखाने वाला और ज्ञानवर्धक रहा। यह वर्ष जन आंदोलनों के नाम रहा। इस वर्ष की शुरुआत नागरिक संशोधन कानून के खिलाफ संघर्ष से हुई तथा अनिश्चितकालीन किसान आंदोलन के साथ 2020 खत्म हो गया। पिछले...

नॉर्थ-ईस्ट डायरीः केंद्र की मंजूरी के बिना ही मेघालय सरकार लागू करेगी वर्चुअल आईएलपी व्यवस्था

मेघालय में जन संगठन लंबे समय से इनर लाइन परमिट (आईएलपी) व्यवस्था लागू करने के लिए आंदोलन करते रहे हैं। अब तक केंद्र की मोदी सरकार ने इसकी मंजूरी नहीं दी है। इन संगठनों ने विलंब होने पर आंदोलन...
- Advertisement -spot_img

Latest News

छत्तीसगढ़: भूमि अधिकार आंदोलन के तहत आयोजित हुआ राज्य स्तरीय सम्मेलन 

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के पास्टोरल सेंटर में भूमि अधिकार आंदोलन का राज्य सम्मेलन आयोजित हुआ। 28 जून...
- Advertisement -spot_img