Sunday, October 24, 2021

Add News

humanchain

दिल्ली पुलिस की नज़र में कलम नहीं कट्टे की है इज्जत

थे तो वे दोनों भी पत्रकार, पर पता नहीं उन्होंने पुलिस को यह बताया था या नहीं। तीसरे पत्रकार को जरूर जब एक इंस्पेक्टर- सब-इंस्पेक्टर जैसे किसी जवान ने बांह से पकड़कर टैम्पो ट्रेवेलर के दरवाजे की तरफ खींचा...
- Advertisement -spot_img

Latest News

भारत में उच्च जाति के शीर्ष न्यायाधीशों का रवैया अपने दलित सहयोगियों के प्रति पक्षपातपूर्ण: यूएस बार एसोसिएशन रिपोर्ट

प्रभावशाली अमेरिकन बार एसोसिएशन (एबीए) सेंटर फॉर ह्यूमन राइट्स द्वारा, इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए कि भारतीय...
- Advertisement -spot_img