Tuesday, October 26, 2021

Add News

Tehelka

तेजपाल मामले में अदालत ने कहा- महिला के आरोपों के समर्थन में कोई सबूत मौजूद नहीं

तहलका के संस्थापक और संपादक तरुण तेजपाल को सहकर्मी से यौन उत्पीड़न के आरोपों से बरी करते हुए गोवा की सत्र अदालत की जज क्षमा जोशी ने कहा कि घटना का कोई मेडिकल प्रमाण नहीं है और शिकायतकर्ता की...

रेप केस में पत्रकार तरुण तेजपाल आठ साल बाद बरी

रेप केस में पत्रकार तरुण तेजपाल को बड़ी राहत मिली है। 8 साल बाद गोवा के जिला और सत्र न्यायालय, मापुसा ने 'तहलका' के संस्थापक और पूर्व प्रधान संपादक तरुण तेजपाल को एक जूनियर सहयोगी के यौन उत्पीड़न और...

भ्रष्टाचार का आरोप अवमानना नहीं हो सकता, प्रशांत भूषण ने किया जवाब दाखिल

नागरिक अधिकारों के वकील प्रशांत भूषण ने उच्चतम न्यायालय से कहा है कि भ्रष्टाचार का आरोप ‘प्रति’ अवमानना नहीं हो सकता, क्योंकि सत्य अवमानना कार्यवाही का बचाव है। संविधान और न्यायाधीश जांच अधिनियम के तहत महाभियोग की कार्यवाही में...

प्रशांत भूषण ने रिट दाखिल कर कहा उनके खिलाफ अवमानना याचिका में प्रक्रियात्मक नियमों का हुआ उल्लंघन

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने अपने विरुद्ध अवमानना मामले के खिलाफ उच्चतम न्यायालय में याचिका दाखिल की है। याचिका में अवमानना मामले की सुनवाई का आदेश वापस लेने की मांग की गई है। याचिका में यह भी कहा गया...
- Advertisement -spot_img

Latest News

वाराणसी: अदालत ने दिया बिल्डर के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश

वाराणसी। पाई-पाई कमाई जोड़कर अपना आशियाना पाने के इरादे पर बिल्डर डाका डाल रहे हैं। लाखों रुपए लेने के...
- Advertisement -spot_img