पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर आरोप लगाने के बाद से लड़की लापता, पुलिस FIR तक दर्ज करने को तैयार नहीं

Estimated read time 1 min read

नई दिल्ली/शाहजहांपुर। विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के बाद बीजेपी के एक और नेता जो अटल सरकार में केंद्रीय मंत्री तक रह चुके हैं, सवालों के घेरे में हैं। नाम है स्वामी चिन्मयानंद। उन्नाव के पड़ोसी जिले शाहजहांपुर के रहने वाले चिन्मयानंद पर एसएस लॉ कालेज में पढ़ने वाली एक लड़की ने गंभीर आरोप लगाए हैं। लड़की ने 23 अगस्त को सोशल मीडिया पर एक वीडियो डाला था जिसमें उसने स्वामी पर कई लड़कियों की इज्जत और सम्मान के साथ खेलने का आरोप लगाया है। दिलचस्प बात यह है कि इस वीडियो के सामने आने के दूसरे दिन से ही लड़की लापता हो गयी है।

इस वीडियो में उसे पीएम मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अपील करते हुए सुना और देखा जा सकता है। उसने कहा है कि “मैं शाहजहांपुर की रहने वाली हूं और एसएस कालेज से एलएलएम कर रही हूं। संत समाज के एक बड़े नेता, जिन्होंने कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर दी, मेरी जान लेने की धमकी दे रहे हैं। मेरे पास उनके खिलाफ ढेर सारे सबूत हैं। मैं मोदी जी और योगी जी से प्रार्थना करती हूं कि कृपया मेरी सहायता करें। यहां तक कि उन्होंने मेरे परिवार को मार डालने की धमकी दी है।”

उसने आगे कहा कि “केवल मैं जानती हूं मैं जिन परिस्थितियों से गुजर रही हूं। मोदी जी कृपया मेरी सहायता करिए। वह एक सन्यासी है और इस बात की धमकी दे रहा है कि पुलिस, जिलाधिकारी और हर कोई दूसरा उसकी तरफ है और कोई उसे चोट नहीं पहुंचा सकता है। मैं आप सभी से न्याय की प्रार्थना करती हूं।”

उसका यह वीडियो 23 अगस्त को आया था और फिर 24 अगस्त को लड़की लापता हो गयी। उसके पिता ने चिन्मयानंद के खिलाफ लिखित शिकायत की है लेकिन पुलिस को अभी केस दर्ज करना बाकी है।

स्वामी चिन्मयानंद।

उसकी मां ने एबीपी को बताया कि “मेरी बेटी रक्षाबंधन के दिन घर आयी थी। मैंने उससे पूछा कि उसका फोन क्यों बार-बार स्विच्ड ऑफ हो जाता है। उसने बताया कि ‘अगर मेरा फोन बहुत ज्यादा समय के लिए ऑफ हो जाता है तब समझ लेना कि मैं परेशानी में हूं। मेरा फोन केवल तभी ऑफ होता है जब वह मेरे हाथ में नहीं होता है।’ मेरी बेटी ढेर सारे दर्द और परेशानियों से गुजर रही थी लेकिन उसने ज्यादा कुछ नहीं बताया। उसने मुझे बताया कि कालेज प्रशासन द्वारा उसे नैनीताल भेजा गया था”।

लड़की के पिता का कहना है कि वह बहुत दिनों से उससे संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन उसका कोई पता नहीं चल पा रहा है। उन्होंने कहा कि “मेरी बेटी ने व्यक्तिगत रूप से मुझे कभी कुछ नहीं बताया। रक्षा बंधन के मौके पर जब वह घर में थी तो चिंतित दिख रही थी। वह चार दिनों से लापता है। यहां तक कि मैंने कालेज के निदेशक स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ शिकायत भी दर्ज करायी है लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नही की गयी है।”

शाहजहांपुर के एसएसपी एस चिनप्पा ने वायरल हो चुके वीडियो के जानकारी में होने की बात से साफ तौर पर इंकार किया है। साथ ही उनका कहना है कि पिता की शिकायत की भी उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

आपको बता दें कि स्वामी चिन्मयानंद पर इसके पहले भी बलात्कार के आरोप लग चुके हैं। पिछले साल ही योगी आदित्यनाथ की सरकार ने उनके खिलाफ दायर एक बलात्कार और अपहरण के मामले को वापस ले लिया था। यह एफआईआर उनके खिलाफ 2011 में दर्ज हुआ था। और उसको भी उनके आश्रम की एक लड़की ने दर्ज कराया था जो कई सालों तक उनके आश्रम में रही थी।

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours