Saturday, February 4, 2023

बलजीत मेहरा

कितना कारगर है दिल्ली में कूड़े से बिजली उत्पन्न करना

कूड़ा निपटान की समस्या को लेकर भारत करीब पिछले तीस सालों से जूझ रहा है। हालांकि 1990 से पहले यह समस्या वर्तमान समय की तरह विकट नहीं थी। भारत के शहरों में लगातार कूड़े का बढ़ना लोगों की जीवन...

लाल किले से फिर हुईं बड़ी-बड़ी घोषणाएं, लेकिन नदारद रहा रोडमैप

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश को संबोधित करते हुए, हमेशा की तरह जनता का उत्साहवर्धन करने वाला भाषण दिया, कि जैसे स्थिति नियंत्रण में है सब व्यस्थित है, जबकि स्थिति इसके बिल्कुल विपरीत...

कोविद-19 और खाद्य सुरक्षा: जमीन पर उतारनी न हों तो घोषणायें आसान हो जाती हैं

कोरोना महामारी द्वारा उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए प्रधानमंत्री द्वारा तमाम तरह की घोषणायें की जा रही हैं, 30 जून 2020 को छठी बार देश को सम्बोधित करते हुये प्रधानमंत्री ने फिर एक बार घोषणा की, कि नवम्बर...

कोरोना के चलते बाल मजदूरी बढ़ोतरी की आशंकाएं

पिछले कई वर्षों से राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बाल अधिकारों के संरक्षण हेतु कई फोरम बने, इन सभी फोरमों का एक ही उद्देश्य है, किस प्रकार बच्चों के अधिकारों की सुरक्षा की जा सके। विकसित देशों की अपेक्षा...

कॉरपोरेट को लाभ पहुंचाने के लिए भी ज़रूरी है गरीबों की जेब में कुछ नगदी

एक कहावत है थोथा चना बाजे घना यही स्थिति प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा घोषित आत्मनिर्भर भारत अभियान की है। मंगलवार 12 मई 2020, देश को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत अभियान की घोषणा की जिसमें...

कोरोना की आड़ में श्रम कानूनों पर हमला

मजदूर किसी भी देश की रीढ़ है बिना इनके कोई भी देश विकास की सीढ़ियां नहीं चढ़ सकता यह पहले से ही तय था, परन्तु वर्तमान स्थिति में इसकी सार्थकता और बढ़ गयी है। किसी भी देश की अर्थव्यवस्था...

About Me

6 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

जामिया दंगा मामले में शरजील इमाम और आसिफ इकबाल तन्हा बरी

नई दिल्ली। शरजील इमाम और आसिफ इकबाल तन्हा को साकेत कोर्ट ने दंगा भड़काने के आरोप से बरी कर...