Saturday, October 23, 2021

Add News

bamsef

जन्मदिन पर विशेष: कांशीराम ने दिया बहुजन राजनीति को आसमानी फलक

कांशीराम (15 मार्च, 1934 से 9 अक्तूबर 2006) संघर्षों के माध्यम से सामाजिक संगठन खड़ा करने की जीती जागती मिसाल हैं। भारतीय इतिहास में उनका अलग स्थान है, जिन्होंने अंबेडकर, फुले, शाहू जी, गाडगे, पेरियार जैसे दर्जनों विचारकों व...

मनुवादी राजसत्ता को उखाड़ फेंकने के लिए संकल्पित योद्धा: मान्यवर कांशीराम

डॉ. आंबेडकर, ई.वी. रामासामी पेरियार, रामस्वरूप वर्मा, जगदेव प्रसाद, चंद्रिका प्रसाद ‘जिज्ञासु’जैसे बहुजन नायकों का एक स्वर से मानना था कि आजादी के बाद भारत में स्थापित राजसत्ता मूलत: ब्राह्मणवादी राजसत्ता है। डॉ. आंबेडकर और पेरियार ने इसे ब्राह्मण-बनिया...
- Advertisement -spot_img

Latest News

बीएसएल प्रबंधन के खिलाफ बोकारो के विस्थापितों ने फिर शुरू किया मेन गेट पर अनिश्चितकालीन धरना

झारखंड के बोकारो में स्थित बोकारो इस्पात संयंत्र (बीएसएल) के मेन गेट पर विस्थापितों ने 20 अक्टूबर से पुन:...
- Advertisement -spot_img