Mon. May 17th, 2021

सत्येंद्र पीएस

1 min read

कांशीराम (15 मार्च, 1934 से 9 अक्तूबर 2006) संघर्षों के माध्यम से सामाजिक संगठन खड़ा करने की जीती जागती मिसाल...

1 min read

1989 के लोकसभा चुनाव के घोषणापत्र में जनता दल ने पिछड़े वर्ग को आरक्षण देने का वादा किया था। सत्ता...

1 min read

हिंदी के लोकप्रिय और वैश्विक रूप से चर्चित कवि उदय प्रकाश का वाणी प्रकाशन से प्रकाशित कविता संग्रह 'अंबर में...

1 min read

विश्व के किसी भी असमानता वाले देश में स्वघोषित आरक्षण होता है। ऐसे समाजों में कुछ तबके ऐसे होते हैं...

1 min read

विकृत आपराधिक घटनाओं के कई रूप हैं, उन्हीं में से एक भयावह रूप है एसिड अटैक। एसिड से जिस किसी...

1 min read

जिस धज से कोई मक़्तल में गया वो शान सलामत रहती है ये जान तो आनी- जानी है, इस जाँ की तो कोई बात नहीं । फैज अहमद फैज की इन पंक्तियों से जिंदगी और संघर्षों का हौसला लेने वाले लालू...