Jharkhand

झारखंड में भूख से हुई मौतें, मौतें नहीं सत्ता प्रायोजित हत्याएं हैं!

वह आदिवासी है, लेकिन आदिवासी नहीं है। वह विकलांग है, लेकिन विकलांग नहीं है। वह भूखा रहने को अभिशप्त है,…

22 hours ago

आयुध कारखानों के निगमीकरण के खिलाफ प्रदर्शन

भारत सरकार द्वारा नागरिक रक्षा उत्पादन का निगमीकरण के रास्ते आयुध कारखानों का निजीकरण करने और इसका विरोध कर रहे…

4 days ago

सरकार को उसकी परेशानी और डर मुबारक: पेगासस सूची में शामिल ईप्शा शताक्षी

अगर आप ग्रासरूट पर पत्रकारिता करते हो, आप एक्टिविज्म में हो, किसी राजनीतिक पार्टी या संगठन से ताल्लुक रखते हो…

1 week ago

आदिवासी सरना समाज अनजाने में हिन्दू गिरफ्त में तो नहीं आ जा रहा?

झारखंड की राजधानी में आदिवासियों के हृदयस्थल करमटोली चौक स्थित केंद्रीय धुमकुड़िया में आज भवन निर्माण कार्यक्रम आयोजित हो रहा…

2 weeks ago

‘हूल दिवस’ पर विशेष: आज झारखंड में जरूरत है एक और हूल की!

भले ही 'हूल दिवस' (संताल दिवस) को बुद्धिजीवियों, सामाजिक संगठनों और राजनीतिक स्तर पर याद किया जाता हो, लेकिन झारखंड…

4 weeks ago

लातेहार के पिरी में सुरक्षा बलों ने की थी ब्रह्मदेव की हत्या: जांच रिपोर्ट

झारखंड। 12 जून, 2021 को कई न्यूज़ वेबसाइट पर यह खबर छपी कि लातेहार (झारखंड) के गारू थाना अंतर्गत कुकू-पिरी…

1 month ago

झारखंड: जंगल में शिकार करने गये आदिवासी युवकों पर सुरक्षा बलों ने चलायी गोली, एक की मौत और एक घायल

आज झारखंड के लातेहार जिले के गारू थानान्तर्गत कुकू-पिरी जंगल में सुरक्षा बलों ने शिकार करने गये आदिवासी युवकों के…

2 months ago

रूपा तिर्की के परिजनों को अब भी इंसाफ की आस

झारखंड। भले ही हेमंत सरकार ने साहिबगंज की महिला थाना प्रभारी सब इंस्पेक्टर रूपा तिर्की की हत्या बनाम आत्महत्या के…

2 months ago

पुस्तक समीक्षा: ‘गूँगी रुलाई का कोरस’ यानी संगीत के बहाने समाज की चीर-फाड़

रणेंद्र का ताजा उपन्यास 'गूंगी रुलाई का कोरस' चर्चा में है। राजकमल प्रकाशन से आया यह उपन्यास अमेजन पर उपलब्ध…

2 months ago

पुलिस के खौफ से हो गयी झारखंड में एक शख्स की मौत!

झारखंड के गढ़वा जिले में स्थित भंडरिया थाने के नवका गांव के किरपाल मांझी उर्फ पाला (48 वर्ष) की पिछली…

2 months ago