Thursday, January 27, 2022

Add News

nia

पीएम सुरक्षा चूक के राजनीतिक बेजा इस्तेमाल ने मामले को बनाया और संदिगध

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को पीएम सुरक्षा में हुयी सुरक्षा चूक पर संज्ञान लेते हुए, जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट के एक सेवानिवृत्त न्यायाधीश की अध्यक्षता में एक स्वतंत्र समिति का गठन करने का निर्णय किया है। अदालत, प्रस्तावित...

भीमा कोरेगांव में सुधा भारद्वाज को जमानत तो मिली पर जल्दी रिहाई में बाधा

एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में बॉम्बे हाईकोर्ट के जस्टिस एसएस शिंदे और जस्टिस एनजे जमादार की खंडपीठ ने बुधवार 1 दिसंबर को सामाजिक कार्यकर्ता और वकील सुधा भारद्वाज को 2018 भीमा कोरेगांव-एल्गार परिषद जाति हिंसा मामले में डिफॉल्ट जमानत दे...

भीमा कोरेगांव मामले में सुधा भारद्वाज को बाम्बे हाईकोर्ट से जमानत

भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट ने सुधा भारद्वाज की डिफॉल्ट जमानत की अर्जी मंजूर कर ली है। लेकिन उन्हें विशेष एनआईए (NIA)कोर्ट में अर्जी देनी होगी, इसके बाद जमानत और शर्तें तय होंगी। हालांकि बाकी 8 आरोपियों...

दांव पर है अहम जांच एजेंसियों की साख

लखीमपुर खीरी जिले में, देश के गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे, आशीष मिश्र मोनू के ऊपर किसानों की भीड़ पर गाड़ी चढ़ा कर मार देने का आरोप है। वह जेल में है, और इस केस की तफ्तीश...

रायपुर: राजसत्ता के दमन, काले कानूनों की वापसी और राजनैतिक बंदियों की रिहाई को लेकर प्रदर्शन

बस्तर/रायपुर। राज्य-सत्ता के दमन, काले कानूनों की समाप्ति, राजनैतिक बंदियों की रिहाई आदि  मांगों पर लोकतंत्र की रक्षा के लिए राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत कल रायपुर बूढ़ा तालाब धरना स्थल में प्रदेश के जनवादी संगठनों द्वारा संयुक्त रूप से...

भीमा कोरेगांव: एनआईए की ड्राफ्ट चार्जशीट में मोदी की हत्या की साजिश का ज़िक्र नहीं

पेगासस जासूसी के अन्तर्राष्ट्रीय आरोपों और आर्सेनल कंसल्टिंग फ़ोरेंसिक लैब की जाँच रिपोर्ट में एक आरोपी रोना विल्सन के लैपटॉप में सबूत प्लांट किये जाने के आरोपों के बीच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने एल्गार परिषद-भीमा कोरेगांव मामले के...

सुतली बम के आतंकवादी अपराध की श्रेणी में रखे जाने से एनआईए कानून का उद्देश्य विफल: मद्रास हाईकोर्ट

मद्रास हाईकोर्ट के जस्टिस पी.एन. प्रकाश, जस्टिस वी. शिवगनम और जस्टिस आर. एन. मंजुला की पूर्ण पीठ ने कहा है कि हमारी सुविचारित राय में, एनआईए अधिनियम का उद्देश्य विफल हो जाएगा, यदि देशी बम मामलों के सभी और...

आधुनिक काल के संत स्टेन स्वामी

गत 05 जुलाई 2021 को भारतीय मानवाधिकार आंदोलन ने अपना एक प्रतिबद्ध, सिद्धांतवादी और अथक योद्धा खो दिया। फॉदर स्टेनीलॉस लोरडूस्वामी, जो स्टेन स्वामी के नाम से लोकप्रिय थे, ने मुंबई के होली स्पिरिट अस्पताल में अंतिम सांस ली। जिस...

अदालतों को शर्मिंदा करके चले गए स्टेन स्वामी!

84 वर्षीय फादर स्टेन स्वामी ने अदालतों को यह तय करने नहीं दिया कि वे एनआईए द्वारा उनके खिलाफ लगाये गये उन गंभीर आरोपों के लिए दोषी हैं या नहीं, जिनके तहत उन्हें गिरफ्तार किया गया था और गम्भीर रूप से बीमार...

अखिल गोगोई का एनआईए कोर्ट से बरी किया जाना असाधारण घटना

अखिल गोगोई अंततः जेल से छूट गए। जेल के बारे में मेरी यह स्थाई मान्यता है कि कोई भी जेल में स्थाई तौर पर नहीं रहता। समय कम ज्यादा लगता है लेकिन आरोपी जेल से बाहर आ ही जाता है।...
- Advertisement -spot_img

Latest News

बहु आयामी गरीबी के आईने में उत्तर-प्रदेश

उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाना है- ऐसा योगी सरकार का संकल्प है। उनका संकल्प है कि विकास के...
- Advertisement -spot_img