Sunday, October 24, 2021

Add News

savarna

सवर्णों के बढ़ते मनोबल का नतीजा है चंदौली में दलितों पर हमला: माले जांच दल

लखनऊ। भाकपा (माले) के तीन सदस्यीय जांच दल ने चंदौली में सदर कोतवाली क्षेत्र के बरथरा कला गांव का दौरा किया, जहां गुरुवार (08 जुलाई) को दबंगों ने दलित परिवार पर हमला कर उनके आवास को जला डाला था।...

‘दलित साहित्य’ ही कहना क्यों जरूरी?

बीसवीं सदी के उत्तरार्द्ध में दलित समाज की वेदना और उत्पीड़न को दलित साहित्य के माध्यम से दुनिया के समक्ष लाने का महत्वपूर्ण कार्य हुआ है। पिछली सदी के सातवें दशक में ‘दलित साहित्य’ का हिंदी पट्टी में शुरुआती...

सामाजिक न्याय के आईने में बिहार की बदलती राजनीति

बिहार चुनाव के बाद नई सरकार बन चुकी है। तेजस्वी यादव के नेतृत्व वाला महागठबंधन सत्ता से कुछ कदम पीछे रह गया। भाजपा ने ताकत बढ़ा ली है, नीतीश कुमार फिर से मुख्यमंत्री बने हैं, लेकिन बड़े भाई की...

आजमगढ़ में सवर्णों के आगे न झुकने पर दलित प्रधान की हत्या, पुलिस की गाड़ी से कुचलकर बच्चे की भी मौत

यूपी के आजमगढ़ में एक दलित प्रधान को सम्मान से जीने की कीमत अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। 42 साल के प्रधान सत्येमव जयते दलितों के सम्मान के लिए संघर्ष कर रहे थे। सवर्ण जाति के लोग उनसे इस...

जम्मू में दलित उत्पीड़न: जहां कभी थे रोटी-बेटी के रिश्ते, अब हो रही हैं जाति के नाम पर हत्याएं

8 जुलाई की शाम पूरन चंद, उनका बेटा अशोक कुमार और बहू आशा देवी जम्मू के सरूइंसार, मनवाल के गांव चिल्ला स्थित अपने खेत में खेती का काम कर रहे थे। ठीक शाम के 6 बजे सवर्ण समाज के...
- Advertisement -spot_img

Latest News

कोविड काल के दौरान बच्चों में सीखने की प्रवृत्ति का हुआ बड़े स्तर पर ह्रास

कोविड काल में बच्चों में सीखने की प्रवृत्ति का काफी बड़ा नुकसान हुआ है। इसका खुलासा ज्ञान विज्ञान समिति...
- Advertisement -spot_img