Sunday, October 24, 2021

Add News

sibbal

अर्णब की जमानत संबंधी फैसला बन गया है सुप्रीम कोर्ट के गले की हड्डी

उच्चतम न्यायालय में पर्सनल लिबर्टी सर्वोपरि के नाम पर अर्णब गोस्वामी के अंतरिम जमानत का मामला नजीर बन गया है और अन्य मामलों में इसके उल्लेख पर पीठ को माकूल जवाब नहीं सूझ रहा। जहां केरल के पत्रकार सिद्दीक...

यूपी में गिरफ्तार केरल के पत्रकार की पर्सनल लिबर्टी पर चुप रहे जस्टिस चन्द्रचूड़

उच्चतम न्यायालय में बुधवार 11 नवम्बर को जस्टिस डीवाई चन्द्रचूड़ ने पर्सनल लिबर्टी पर जोर देते हुए कहा कि “अगर हम एक संवैधानिक अदालत के रूप में कानून नहीं बनाते हैं और स्वतंत्रता की रक्षा नहीं करते हैं तो कौन...

अवमानना मामला: पीठ प्रशांत भूषण के स्पष्टीकरण पर करेगी फैसला- 11 साल पुराना मामला बंद होगा या चलेगा?

उच्चतम न्यायालय ने सोमवार 4 अगस्त, 20 को वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण के विरुद्ध वर्ष 2009 में दायर एक अवमानना मामले में उनके द्वारा प्रस्तुत स्पष्टीकरण को स्वीकार करने या न करने पर अपना आदेश सुरक्षित रख लिया। यह आदेश...

उठने लगी है सॉलिसिटर जनरल की बर्खास्तगी की मांग

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता अब हाईकोर्ट के न्यायाधीशों को धमकाने पर उतर आये हैं। शायद वे सोच रहे हैं कि सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस या जस्टिस लोया की संदिग्ध मौत जैसे मामले हैं प्रवासी मजदूरों के, जो मैनेज हो जायेंगे। तुषार मेहता की...

सुप्रीमकोर्ट का स्वत:संज्ञान: ताक पर रख दिया गया है आपदा प्रबंधन कानून

वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने उच्चतम न्यायालय में कहा कि आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 12 के तहत प्रदान की गई राहत के न्यूनतम मानकों का अनुपालन नहीं किया गया है और कि अधिनियम के अंतर्गत प्रावधानित कोई राष्ट्रीय/राज्य...
- Advertisement -spot_img

Latest News

कोविड काल के दौरान बच्चों में सीखने की प्रवृत्ति का हुआ बड़े स्तर पर ह्रास

कोविड काल में बच्चों में सीखने की प्रवृत्ति का काफी बड़ा नुकसान हुआ है। इसका खुलासा ज्ञान विज्ञान समिति...
- Advertisement -spot_img