Friday, April 19, 2024

अनिल जैन

रामकथा और भोजन-भंडारे में नहीं जनता के बुनियादी मुद्दों पर सक्रिय रहते हैं ग्वालियर के विधायक प्रवीण पाठक

ग्वालियर। ऐसे समय जब देश में और उसमें भी खास कर मध्य प्रदेश भाजपा और कांग्रेस में खुद को धर्मनिष्ठ दिखाने की होड़ मची है। दोनों पार्टियों के शीर्ष नेताओं से लेकर छुटभैये नेता तक आए दिन किसी न किसी...

भाजपा के लिए गंभीर चुनौती बन चुके राहुल गांधी, छवि धूमिल करने में संघ का अफवाह-तंत्र नाकाम

देश की सबसे पुरानी पार्टी और लंबे समय तक सत्ता में रही कांग्रेस ने 2014 के लोकसभा चुनाव में अपने इतिहास की सबसे शर्मनाक हार का सामना किया था। लेकिन विकास मिश्रित राष्ट्रवाद के मुद्दे पर भाजपा को ऐतिहासिक...

अडानी से पंगा लेना महुआ को भी भारी पड़ सकता है, तगड़ी घेरेबंदी की तैयारी

नई दिल्ली। तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा से जुड़े कथित तौर पर सवाल के बदले पैसे लेने के मामले में अब बड़ा धमाका हुआ है। जिन दर्शन हीरानंदानी नामक बिल्डर और कारोबारी की मदद करने का आरोप महुआ...

क्यों ठिठका हुआ है विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ का कारवां?

चार महीने पहले बने विपक्षी दलों के गठबंधन 'इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव अलायंस’ यानी इंडिया में अब गजब का सन्नाटा छाया हुआ है। किसी को पता नहीं है कि चार महीने पहले बने इस गठबंधन में क्या हो रहा...

तेलंगाना में कांग्रेस को रोकने के लिए भाजपा ने केसीआर के लिए मैदान छोड़ा!

कोई छह महीने पहले भारतीय जनता पार्टी तेलंगाना में बेहद सक्रिय थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा थोड़े-थोड़े अंतराल पर राज्य के दौरे कर रहे थे और अपने भाषणों में मुख्यमंत्री केसीआर यानी...

जयंती पर विशेष: गांधी जी की हत्या के मूल में भारत विभाजन नहीं, बल्कि हिंदू राष्ट्र का दुष्ट इरादा था

महात्मा गांधी की हत्या के संदर्भ में उनके हत्यारे नाथूराम गोडसे के समर्थक और हिंदुत्वादी नेता अक्सर यह दलील देते रहते हैं कि गांधी जी ने भारत के बंटवारे को रोकने का कोई प्रयास नहीं किया, उनकी वजह से...

विशेष सत्र के लिए अभी सिर्फ दिखावे का एजेंडा जारी किया है सरकार ने

संसद के बहुचर्चित विशेष सत्र का एक एजेंडा बुधवार को लोकसभा सचिवालय की ओर से एक सूचना के तौर पर जारी किया गया है। इसमें बताया गया कि सामान्य कामकाज यानी दस्तावेज आदि सदन के पटल पर रखे जाने...

विशेष सत्र का गोपनीय एजेंडा: संसद को अपने रसोई घर की तरह चलाना चाहती है सरकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए लोकतंत्र का मतलब किसी भी तरह चुनाव जीतना भर है। इसके अलावा अपनी सत्ता का दुरुपयोग कर दूसरे दलों को डराना, उन्हें तोड़ना और उनकी निर्वाचित सरकारों को गिरा कर अपनी पार्टी की सरकार...

अनुच्छेद 370: जो काम संसद में होना था, वह सुप्रीम कोर्ट में हुआ

जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाते वक्त जो काम केंद्र सरकार और संसद को करना चाहिए था, वह काम देश की सर्वोच्च अदालत ने किया है। सुप्रीम कोर्ट ने अनुच्छेद 370...

विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ का काफी कुछ भविष्य मुंबई बैठक से तय होगा!

विपक्षी दलों के गठबंधन 'इंडिया’ यानी इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इनक्लूसिव अलायंस की तीसरी बैठक 31 अगस्त और एक सितंबर को मुंबई में हो रही है। इससे पहले दो बैठकें पटना और बेंगलुरू में हो चुकी हैं। बिहार के मुख्यमंत्री...

About Me

220 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

मोदी की गारंटी: भाजपा की जगह मोदी, लोकतंत्र की जगह तानाशाही

मतदान की शुरुआत होने में जब महज पांच दिन बचे थे तब कहीं जाकर मौजूदा सत्ता पार्टी भाजपा ने...