30.1 C
Delhi
Friday, September 17, 2021

Add News

मदन कोथुनियां

राजस्थान का सियासी संकट: ‘माइनस’ की ‘प्लस’ में तब्दीली

राजस्थान का सियासी गणित बदल गया। 32 दिन तो खपे लेकिन 'बाकी' की कवायद करते-करते अचानक 'जोड़' हो गया। अब कांग्रेस में 'जोड़' (गठजोड़) होने के बाद कुछ भी 'बाकी' नहीं रहा। हिसाब 'चुकता' करने के चक्कर में बेचारा...

मरूधरा की सियासी जंग: खतरा अभी टला नहीं है

जयपुर। 13 जुलाई को जयपुर में मुख्यमंत्री के सरकारी आवास (सीएमआर) पर राजस्थान के कांग्रेस और निर्दलीय विधायकों की संयुक्त बैठक हुई। दावा किया गया कि इस बैठक में 100 से भी ज्यादा विधायक मौजूद रहे, इसलिए अब अशोक...

अब राजस्थान की राजनीति में भूचाल! क्या सिंधिया की राह पर हैं पायलट?

जयपुर। राजस्थान कांग्रेस की राजनीति में जो ताजा भूचाल आया है, उसके पीछे प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और डिप्टी सीएम सचिन पायलट को एसओजी यानी स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप द्वारा भेजा गया कानूनी नोटिस बताया जा रहा है। चूंकि...

आखिर हाशिये पर क्यों पहुंच गयी किसान राजनीति?

भारतीय राजनीति का दौर पूंजीवाद के आगमन के साथ बदल चुका है। सदियों से चले आ रहे सामाजिक अन्याय व अत्याचार को तो ढोया जा रहा है, मगर पूंजीवाद तले सामाजिक न्याय की लड़ाई भटक चुकी है। भारत जैसे देश...

राजस्थान के किसानों के दिल्ली कूच को पुलिस ने रोका, विरोध में उपवास पर बैठे रामपाल जाट

चने की सरकारी खरीद की सीमा बढ़ाए जाने की मांग को लेकर राजस्थान में किसानों का आंदोलन तेज हो गया है। जयपुर से 30 किलोमीटर दूर अजमेर राजमार्ग पर पड़ने वाले महला में पड़ाव डाले बैठे किसानों ने बुधवार...

एनजीओ का धंधा, कभी न मंदा

अभी तो मंजिल दूर है, दूर है तेरा गांव। तंबू में तू बैठ कर, ले ले थोड़ी छांव।। मगर उम्मीदों के तंबू भी ग़ायब हैं। नजर डालते हैं तंबुओं की व्यवस्था पर; लोकतांत्रिक देशों में सरकारी या सामाजिक सिस्टम की पहुंच से...

हर मोर्चे पर फेल प्रधानमंत्री के 4 एल

भारत के प्रधानमंत्री मोदी जी परसों देश से मुखातिब हुए और चार "L"का महत्व जनता को समझाया। 1.Land 2.Labour 3.Law 4.Liquidity मुझे नहीं पता कि प्रधानमंत्री जी की क्या मंशा है और क्या करना चाहते हैं मगर इन चारों पैरामीटर के हिसाब से जो...

मनुष्य कहने लायक़ नहीं हैं अपने-अपने संप्रदाय की चिंता करने वाले लोग!

देश के पीएम नित नए नए ढंग से एकता के संदेश दे रहे हैं। फिर भी देशवासियों में जाति और संप्रदाय के नाम पर आपसी अविश्वास और नफरत तेजी से फैलती जा रही है। जिसके लिए देश का मीडिया,...

इतिहास से सबक़ न लेने वाला उसके ही कूड़ेदान में समा जाता है!

कहा जाता है कि इतिहास जब गौरव मात्र करने की विषयवस्तु बन जाता है तो इतिहास खुद को बार-बार दोहराने लगता है। और जब ऐतिहासिक गौरव में संस्कृति का तड़का लगा दिया जाए तो भविष्य, इतिहास से दो कदम...

पत्नी को कंधे पर बैठाकर तय की हज़ारों किमी की दूरी

लोककथाओं में हमने श्रवण की कहानी सुनी थी। जिसमें वह दोनों आँखों से न देख सकने वाले अपने माता-पिता को तराज़ू में रखकर अपने कंधे के सहारे तीर्थाटन कराते हैं। लेकिन एक शख़्स अपनी पत्नी के लिए श्रवण बन...

About Me

20 POSTS
0 COMMENTS
- Advertisement -spot_img

Latest News

यूपी में बीजेपी ने शुरू कर दिया सांप्रदायिक ध्रुवीकरण का खेल

जैसे जैसे चुनावी दिन नज़दीक आ रहे हैं भाजपा अपने असली रंग में आती जा रही है। विकास के...
- Advertisement -spot_img

Log In

Or with username:

Forgot password?

Forgot password?

Enter your account data and we will send you a link to reset your password.

Your password reset link appears to be invalid or expired.

Log in

Privacy Policy

Add to Collection

No Collections

Here you'll find all collections you've created before.