Tuesday, October 3, 2023

अडानी की वित्तीय हालत हुई और पतली, गिरवी रखे दो कंपनियों के शेयर

नई दिल्ली। हिंडनबर्ग रिपोर्ट के धमाके के बाद से ही कारोबारी गौतम अडानी के संकट खत्म होने का नाम नहीं ले रहे हैं। गौतम अडानी ने लोन चुकाने के लिए अपनी दो कंपनियों के शेयर को गिरवी रख दिया है। अडानी ने अपनी दो कंपनियां अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड और अडानी ट्रांसमिशन लिमिटेड के शेयर गिरवी रखे हैं।

एसबीआई कैप के एक ट्रस्टी ने स्टॉक एक्सचेंजों को बताया है कि अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड के 0.99 प्रतिशत शेयर अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड के कर्जदाताओं के बेनिफिट के लिए गिरवी रखे गए थे। अडानी ट्रांसमिशन लिमिटेड के 0.76 प्रतिशत अतिरिक्त शेयर भी बैंकों के पास गिरवी रखे गए थे।

हालांकि एसबीआई बैंक की ईकाई एसबीआई कैप ने अडानी एंटरप्राइजेज द्वारा लिए गए लोन का ब्यौरा नहीं दिया। अडानी ट्रांसमिशन में अडानी के गिरवी शेयरों की संख्या 1.32 फीसदी और अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड में दो फीसदी तक पहुंच गई है। 

अडानी ग्रुप ने 7 मार्च को कहा कि उसने 7,374 करोड़ रुपये (900 मिलियन अमरीकी डालर से अधिक) के लोन चुकाए हैं, जो निवेशकों की चिंताओं को दूर करने के लिए ग्रुप की चार कंपनियों के शेयर गिरवी रखकर लिए गए थे। वहीं अडानी ग्रुप ने लोन चुकाने के लिए पैसे कहां से लिए इसका ब्यौरा नहीं दिया है।

एसबी अडानी फैमिली ट्रस्ट की ओर से संस्थापक अध्यक्ष गौतम अडानी और उनके भाई राजेश ने 2 मार्च को फ्लैगशिप इनक्यूबेटिंग फर्म अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड (एईएल), पोर्ट कंपनी अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन लिमिटेड (एपीएसईजेड), इलेक्ट्रिसिटी ट्रांसमिटिंग फर्म अडानी, ट्रांसमिशन लिमिटेड (एईएल) और नवीकरणीय ऊर्जा फर्म अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल) में शेयरों की बिक्री की घोषणा की थी।  

बता दें कि 24 जनवरी को हिंडनबर्ग रिसर्च ने एक रिपोर्ट जारी की थी जिसमें अडानी ग्रुप पर शेयरों के हेरफेर और अकाउंट में धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया था।

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of

guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles

उम्र के ढलान पर चौधरी वीरेंद्र सिंह के सियासी पैंतरे

हिसार। हरियाणा की राजनीति में अरसे से मुख़्यमंत्री बनने की महत्वाकांक्षा पाले पूर्व केंद्रीय...