Saturday, November 27, 2021

Add News

यूपी में ट्रैक्टर रैली रोकने के लिए प्रशासन मुस्तैद, जगह-जगह पुलिस तैनात, कई नेता नजरबंद

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

पूर्वी उत्तर प्रदेश के तमाम जिलों में प्रशासन की रोक के बावजूद आज किसान जिला मुख्यालय पर ट्रैक्टर परेड निकाल रहे हैं। यूपी पुलिस ने ट्रैक्टर परेड न निकलने देने के निर्देश जारी किए हैं। परेड निकालने पर पुलिस कार्रवाई कर रही है।

गोरखपुर में ट्रैक्टर रैली निकालने की अनुमति नहीं दी है। ऐसे में यदि रैली के लिहाज से शहर की ओर कोई ट्रैक्टर लेकर आएगा तो उसका वाहन सीज कर दिया जाएगा। इसके साथ ही मालिक पर एफआईआर भी दर्ज कराई जाएगी। कोई ट्रैक्टर लेकर न निकले इसके लिए लेखपालों एवं चौकीदारों को भी अलर्ट किया गया है।

यूपी के फिरोजाबाद में किसानों की ट्रैक्टर रैली को लेकर पूरे जिले में पुलिस फोर्स तैनात है। जनपद की सीमाओं पर पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है। समाजवादी पार्टी ने ट्रैक्टर यात्रा निकालने की गोपनीय रणनीति तैयार की है। इसके तहत जिला मुख्यालय पर फोर्स तैनात कर दी गई है, बैरियर लगाकर वाहनों की चेकिंग की जा रही है।

आजमगढ़ जिले में गणतंत्र दिवस पर समाजवादी पार्टी (सपा) की ट्रैक्टर रैली को लेकर तनातनी की स्थिति बनी हुई है। अंबारी स्थित सपा नेता एवं पूर्व बाहुबली सांसद रमाकांत के आवास पर ट्रैक्टरों के साथ कार्यकर्ताओं की भीड़ जमा है। वहीं पुलिस ने रैली को किसी भी कीमत पर रोकने के लिए प्रमुख मार्गों पर फोर्स लगा दी है।

जौनपुर में सपा के पूर्व सांसद तूफानी सरोज को पुलिस ने हाउस अरेस्ट किया है। घर के बाहर जलालपुर और वाराणसी के फूलपुर थाने की फोर्स तैनात है। बड़ी संख्या में सपाई भी घर के बाहर जुट गए हैं। पूर्व सांसद का कहना है कि वह घर से बाहर जरूर जाएंगे, चाहे पुलिस कुछ भी कर ले। स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है।

यूपी के संतकबीरनगर जिले में किसान आंदोलन के समर्थन में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ट्रैक्टर रैली निकाली है। शहर के बिधियानी मोड़ पर सड़क जाम की गई है। इस दौरान पुलिस से नोकझोंक भी हुई है।

वहीं मथुरा जिले में यमुना एक्सप्रेस पर चढ़ने वाले जितने भी पॉइंट थे वहां पुलिस तैनात है। किसी भी किसान संगठन को यमुना एक्सप्रेस वे पर नहीं चढ़ने दिया जा रहा है। मथुरा से चढ़ने वाले एंट्री प्वाइंट को पुलिस ने पहले ही रोक दिया था। डायवर्जन करके उल्टी दिशा से रूटीन के आने जाने वाले लोगों को उतारने और चढ़ाने की व्यवस्था की गई है।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

जजों पर शारीरिक ही नहीं सोशल मीडिया के जरिये भी हो रहे हैं हमले:चीफ जस्टिस

चीफ जस्टिस एनवी रमना ने कहा है कि सामान्य धारणा कि न्याय देना केवल न्यायपालिका का कार्य है, यह...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -