ईरान ने किया इराक स्थित अल असद अमेरिकी अड्डे पर भीषण हमला

Estimated read time 1 min read

नई दिल्ली। ईरान ने बदले की कार्रवाई शुरू कर दी है और उसने इराक स्थित अमेरिकी अड्डों पर हमला शुरू कर दिया है। बुधवार को ईरान ने मिसाइलों के पूरे लश्कर के साथ यह हमला किया। ईरानी एजेंसी ने कहा है कि तेहरान ने जिस बात का वादा किया था उसके तहत अपने कमांडर की हत्या की बदले की कार्रवाई उसने शुरू कर दी है। ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स ने अपने एक बायन में कहा कि रिवोल्यूशनरी गार्डों द्वारा भीषण युद्ध छेड़ दिया गया है।

ईरानी न्यूज मीडिया ने बताया कि कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी की राख को दफनाने के लिहाज से घर आने के बाद ही ईरान ने कार्रवाई शुरू कर दी।

असद स्थित अमेरिकी अड्डे पर छोटी दूरी के बैलेस्टिक मिसाइल दागे गए हैं। यह अड्डा पश्चिम इराक के अनबर प्रांत में स्थित है। एक अमेरिकी अधिकारी के मुताबिक अभी तक छह राकेट अड्डे पर दागे गए हैं।

इराक के ज्वाइंट मिलिट्री कमांड ने कहा है कि अड्डे पर सात राकेट दागे गए हैं। ईरानी अधिकारियों का कहना है कि यह हमला रात में तकरीबन 1.20 बजे शुरू हुआ है। सुलेमानी की शुक्रवार को बगदाद एयरपोर्ट पर अमेरिकी ड्रोन द्वारा उस समय हत्या कर दी गयी थी जब वह एयरपोर्ट से बाहर निकल रहे थे।

ह्वाइट हाउस से आए बयान में कहा गया है कि उसे पता है कि इराक स्थित अमिरिकी अड्डों पर हमला हुआ है। राष्ट्रपति को बता दिया गया है और पूरी स्थिति पर नजर रखी जा रही है। और राष्ट्रीय सुरक्षा टीम से भी संपर्क में हैं।

इराकी मिलिट्री अड्डे ताजी एयरबेस पर हमले के दो घंटे बाद अल असद पर हमले की रिपोर्ट आयी।

अमेरिकी रक्षामंत्री मार्क टी एस्पर ने कहा था कि कासिम सुलेमानी अमेरिका पर हमले की योजना बना रहे थे लिहाजा अमेरिका ने अपनी रक्षा में यह कार्रवाई की थी। जब उनसे मीडिया ने यह पूछा कि यह हमला दिनों में या फिर सप्ताहों में होना था तो उन्होंने कहा कि दिनों में।

You May Also Like

More From Author

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments