Subscribe for notification
Categories: राज्य

आप का गुजरात में चुनाव लड़ने का ऐलान

अहमदाबाद। गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 आम आदमी पार्टी द्वारा लड़ने और न लड़ने के असमंजस के बीच गुजरात दौरे पर आये कैबिनेट मिनिस्टर व् गुजरात के प्रभारी गोपाल राय ने गुजरात विधानसभा चुनाव लड़ने का बिगुल फूंक दिया है। शनिवार को गोपाल राय ने अहमदाबाद में प्रदेश के सभी पदाधिकारियों से मुलाक़ात कर चुनावी चर्चा की जिसके बाद रविवार को उन्होंने अहमदाबाद के शाहीबाग़ स्थित सर्किट हाउस में पत्रकार सम्मेलन में आम आदमी पार्टी के चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी।

पार्टी कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी इसकी अभी घोषणा नहीं की गई है। परन्तु गुजरात प्रभारी गोपाल राय ने बताया कि किस विधानसभा में पार्टी अपना उम्मीदवार उतारेगी। उसके लिए तीन मापदंड बनाये गए हैं विधानसभा के हर बूथ पर कम से कम एक बूथ इंचार्ज नियुक्त रहना चाहिए। हर विधान सभा को चुनाव आयोग द्वारा तय मर्यादा का फंड इकट्ठा करना होगा। वह पैसा उसी विधान सभा में चुनाव के दरम्यान खर्च होगा। उम्मीदवार पर किसी तरह के अपराध और भ्रष्टाचार के आरोप नहीं होने चाहिए। इन सब के अलावा उम्मीदवार राजनैतिक तौर पर सक्षम होना चाहिए। इन तीन मापदंडों पर खरी उतेरने वाली विधानसभा के उम्मीदवार को आम आदमी पार्टी के चुनावी निशान झाड़ू का टिकट दिया जाएगा।

महीने के अंत में उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी जाएगी। आम आदमी पार्टी के केन्द्रीय नेतृत्व ने पूरा भार गुजरात यूनिट पर छोड़ दिया है। गोपाल राय ने 21 लोगों की समिति बनाई है जो चुनाव देखेगी प्रोफेसर किशोर देसाई समिति के अध्यक्ष बनाये गए हैं। राजेश पटेल को समिति का सचिव बनाया गया है। अर्जुन राठवा, जेजे मेवाड़ा और भीमा भाई चौधरी को उपाध्यक्ष बनाया गया है। कनुभाई कलसरिया को प्रचार समिति का अध्यक्ष बनाया गया है। वन्दना बेन को महिलाओं की ज़मीदारी दी गई है। चुनाव का वार रूम अहमदाबाद में होगा जिसका अध्यक्ष आशुतोष पटेल को बनाया गया है।

चुनावी शंखनाद के साथ गोपाल राय ने चुनावी नारा भी घोषित किया जो “गुजरात का संकल्प आप खरा विकल्प” होगा। इसके अलावा दूसरा नारा “एक मौक़ा आप को फिर देखो गुजरात को” को चुनाव में उपयोग किया जायेगा। 17 सितम्बर को पार्टी अहमदाबाद में बाइक रैली के द्वारा बड़ा रोड शो करेगी।

आम आदमी पार्टी का मानना है कि गुजरात में ही नहीं बल्कि देश में भी बीजेपी को जनता ने मौक़ा दिया है जिस पर बीजेपी बुनियादी मुद्दों पर खरी नहीं उतरी और कांग्रेस पार्टी ने जनता का भरोसा खो दिया है। ऐसे में जनता को आम आदमी पार्टी से बहुत उम्मीदें हैं। आम आदमी पार्टी दिल्ली के विकास मॉडल को गुजरात में भी लागू करेगी। मंत्री गोपाल राय ने दिल्ली में मोहल्ला क्लिनिक, शिक्षा, रोज़गार, किसानों के प्रति दिल्ली सरकार की नीति, सैनिकों के सम्मान इत्यादि का ज़िक्र करते हुए सभी नीतियों को गुजरात में लागू करने का वादा भी किया।

चुनावी घोषणा के बाद गुजरात आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं में अधिक ऊर्जा देखने को मिल रही है। गुजराती न्यूज़ चैनलों के भरोसे भले ही चुनाव से पहले के एग्जिट पोल में अमित शाह को अपना टारगेट 151+ हासिल हो गया हो। लेकिन लोकल आईबी की रिपोर्ट ने कांग्रेस को 75 और बीजेपी को 69 सीट दिया है। जबकि निर्दलीय के दस सीटों पर जीतने की संभावना जतायी है। 28 सीटों पर आईबी रिपोर्ट में बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर बतायी गयी है। आम आदमी पार्टी पिछले चार महीने से निष्क्रिय थी जिस कारण रिपोर्ट में आम आदमी पार्टी का उल्लेख नहीं है। 10 निर्दलीय उमीदवारों के प्रति जनता का रुख राज्य में तीसरे विकल्प की बेचैनी बताता है। ऐसे में आम आदमी पार्टी के मैदान में आने से गुजरात की जंग त्रिकोणीय हो सकती है।

This post was last modified on May 9, 2019 10:42 am

Janchowk

Janchowk Official Journalists in Delhi

Share
Published by