Thursday, October 28, 2021

Add News

bhau

अन्ना भाऊ ने साहित्य को बनाया दलितों की लड़ाई का हथियार

सन 2020 दलित इतिहास के समृद्ध पुरालेख के लिए याद किया जाएगा। यह साल भारत की शक्तिशाली आवाज रहे तुकाराम भाऊराव उर्फ अन्ना भाऊ साठे का शताब्दी वर्ष है। अपने तरह की एक साहित्यिक खोज अन्ना भाऊ जो दलित...

पुण्यतिथि पर विशेष: वर्गीय शोषण और जातीय उत्पीड़न के खिलाफ संघर्ष के बड़े नायकों में शामिल थे लोकशाहीर अण्णा भाऊ साठे

अण्णा भाऊ साठे की पहचान पूरे देश में एक लोकशाहीर के तौर पर है। खास तौर पर दलित, वंचित, शोषितों के बीच उनकी छवि एक लोकप्रिय जनकवि की है। उन्होंने अपने लेखन से हाशिये के समाज को आक्रामक जबान...
- Advertisement -spot_img

Latest News

नेपाल सुप्रीम कोर्ट में जजों की हड़ताल, चीफ जस्टिस से इस्तीफे की मांग

क्या संयोग है 2 जनवरी, 2018 को नई दिल्ली में तुगलक रोड पर बंगला नंबर चार में सुप्रीम कोर्ट...
- Advertisement -spot_img