Wednesday, October 27, 2021

Add News

nagaland

नॉर्थ ईस्ट डायरी: म्यांमार से आए शरणार्थियों को लेकर मोदी सरकार और मिजोरम सरकार का रुख अलग-अलग क्यों है?

एक सैन्य तख्तापलट के बाद म्यांमार से आए शरणार्थियों की सहायता को लेकर केंद्र और मिजोरम सरकार के बीच आधिकारिक बातचीत की एक श्रृंखला के बाद दोनों के अलग-अलग रुख सामने आए हैं। मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथांगा ने प्रधानमंत्री...

नॉर्थ ईस्ट डायरीः पूर्वोत्तर सूबों की सरहदें क्यों रहती हैं हिंसक झड़पों से गरम?

पूर्वोत्तर राज्यों के बीच संवैधानिक और ऐतिहासिक सीमाओं की अलग-अलग समझ के कारण समस्या उत्पन्न होती है। असम स्वतंत्रता के बाद निर्मित नागालैंड, मेघालय, मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश से निर्धारित सीमाओं का पालन करने की अपेक्षा रखता है, लेकिन...

कोविड ग्रस्त इंसानी जिंदगियों के अनूठे तरीके से रहबर बने नगालैंड के कोन्याक

इस कोविड महामारी के दौरान नगालैंड के मोन जिले में रहने वाले 39 वर्षीय होंगनाओ कोन्याक ने अपनी एम्बुलेंस से सैकड़ों लोगों की जान बचाई। इस अभूतपूर्व लॉकडाउन के दौर में अपनी निजी गाड़ी को एक कामचलाऊ एम्बुलेंस में...

नॉर्थ ईस्ट डायरी: नगा शांति वार्ता के रास्ते में अलग ध्वज और संविधान बना हुआ है गतिरोध

एक तरफ भारत सरकार जल्द से जल्द नगा शांति समझौते को अंतिम रूप देने के लिए दबाव बना रही है, दूसरी तरफ नगा विद्रोही संगठन अलग ध्वज और अलग संविधान के प्रावधान के बिना किसी तरह का समझौता करने के...

नागालैण्ड में भरत गांधी राजनीति अथवा वसूली के शिकार?

भारत गांधी ने कई किताबें लिखी हैं जिनमें ’लोकतंत्र की पुनर्खोज’ भी शामिल है। उनकी एक पुस्तिका ’वोटरशिप लाओ, गरीबी हटाओ’ के सात संस्करण छप चुके हैं। वे वोटर्स पार्टी इण्टरनेशनल के नेता हैं और जौनपुर, उत्तर प्रदेश के...
- Advertisement -spot_img

Latest News

हाय रे, देश तुम कब सुधरोगे!

आज़ादी के 74 साल बाद भी अंग्रेजों द्वारा डाली गई फूट की राजनीति का बीज हमारे भीतर अंखुआता -अंकुरित...
- Advertisement -spot_img