Sunday, November 27, 2022

pucl

शैक्षणिक कट्टरता ने छीना मुस्लिम महिलाओं से शिक्षा का अधिकार: हिजाब प्रकरण पर पीयूसीएल

इस बात में कोई शक़-ओ-शुबह नहीं है कि धार्मिक कट्टरता समाज को प्रतिगामी, रुढ़िवादी और संकीर्ण बनाती है। और इस बात में भी दो राय नहीं है कि समाज को प्रगतिशील, परिवर्तनकामी और उदार बनाना है तो सबको शिक्षित...

विरोध के अधिकार को क्रिमिनलाइज कर रही है योगी सरकार

कानपुर। कानपुर में तीन जून को हुए हिंसक तनाव को लेकर पीयूसीएल, रिहाई मंच, ऑल इंडिया लायर्स कौंसिल ने प्रेस वार्ता कर पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाते हुए हाईकोर्ट के सिटिंग जज की निगरानी में जांच की मांग...

बस्तर का बहिष्कृत भारत-2: ईसाई आदिवासियों का जीना हुआ दूभर

बीजापुर। छत्तीसगढ़ के दक्षिण में स्थित बस्तर संभाग में आदिवासियों के बीच धार्मिक आस्थाओं के सवाल को लेकर काफी तनाव और आपसी तकरार की स्थिति बनी हुई है। ऐसी एक घटना विगत दिनों होलिका दहन के दिन यानि मार्च...

छत्तीसगढ़: क्यों आंदोलनरत हैं बिलासपुर के सफाईकर्मी?

बरसों पहले मशहूर भारतीय फिल्मकार सत्यजित रे ने अपनी एक फिल्म का प्रदर्शन अमेरिका में किया तो पहले शो में ही बहुत से गोरे दर्शक फिल्म को बीच में ही छोड़कर निकल गए। कारण यह था कि उस फिल्म...

गोहरी हत्याकांड में लीपापोती की कोशिश, घटनास्थल का दौरा करने के बाद पीयूसीएल ने की उच्च स्तरीय जांच की मांग

(इलाहाबाद जिले के फाफामऊ क्षेत्र के गोहरी गांव में पति-पत्नी और दो बच्चों समेत पूरे परिवार की बर्बर तरीके से हत्या कर दी गयी थी। घटना के दो दिन बाद ही लोगों को इसकी जानकारी मिली। जिसके बाद कांग्रेस...

आतंकवाद के नाम पर इलाहाबाद में हुई मुस्लिम युवकों की गिरफ्तारी संबंधी पुलिस की कहानी संदेहास्पद: पीयूसीएल

15 सितंबर को इलाहाबाद के अखबार यहां से कुछ आतंकवादियों के पकड़े जाने की खबर से भरे हुए थे। पकड़े गए मुस्लिम लड़कों के संबंध पाकिस्तान के आईएसआई से बताया गया और ये भी बताया गया कि ये लोग...

विपक्ष भी आया स्टेन स्वामी के समर्थन में, हेमंत सोरेन ने कहा- आज स्वामी हैं कल हमारी बारी होगी

भीमा कारेगांव मामले में एनआईए द्वारा 83 वर्षीय सामाजिक कार्यकर्ता स्टेन स्वामी की गिरफ्तारी के खिलाफ जहां झारखंड सहित देश के कई हिस्सों में विरोध-प्रदर्शन जारी है, वहीं विपक्षी नेताओं ने भी आज स्टेन स्वामी के साथ एकजुटता दिखाते...

एक्टिविस्टों की रिहाई पर वेबिनार: ‘अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के बिना हमारी नागरिकता पूरी नहीं होती’

भीमा कोरेगांव मामले में जेल में बंद 12 लोगों के समर्थन के लिए मानवाधिकार संगठन पीयूसीएल ने कल एक वेबिनार का आयोजन किया, जिसमें देश भर से 496 लोग जूम के जरिये जुड़े। ज़ूम एप की क्षमता आमतौर पर...

किस-किस को कैद करोगे! सामाजिक कार्यकर्ताओं की रिहाई के लिए पीयूसीएल का अभियान

पीयूसीएल और झारखंड जनाधिकार महासभा ने भीमा कारेगांव मामले में जेलों में बंद सामाजिक कार्यकर्ताओं की रिहाई के लिए अभियान छेड़ दिया है। 'किस-किस को कैद करोगे’ के नारे के आज से शुरू हुआ यह अभियान पांच सितंबर तक...

छत्तीसगढ़ः सरकारी नीतियों पर सवाल उठाने वाले पत्रकारों का हो रहा है आखेट

रायपुर। छत्तीसगढ़ में सरकारी नीतियों के खिलाफ कलम चलाने वाले पत्रकारों का लगातार उत्पीड़न हो रहा है। ऐसे पत्रकारों को फर्जी मुकदमे में फंसाकर जेल भी भेजा जा रहा है। पीयूसीएल ने राज्य सत्ता के द्वारा पत्रकारों की प्रताड़ना...
- Advertisement -spot_img

Latest News

Constitution Day Special : देहरादून में छपा था भारत का हस्तलिखित संविधान

विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र की शासन व्यवस्था को संचालित करने वाला विश्व का सबसे बड़ा संविधान न केवल...
- Advertisement -spot_img