Tuesday, October 26, 2021

Add News

Punjabi writer

अवसान दिवस: साहित्य की ‘अणख’ राम सरूप अणखी

गुरबख्श सिंह प्रीतलड़ी, नानक सिंह, जसवंत सिंह कंवल के बाद राम सरूप अणखी पंजाबी और पंजाब के ऐसे लेखक थे जिन्हें सबसे ज्यादा पढ़ा गया। उनके विशाल पाठक वर्ग का दायरा आज भी निरंतर विस्तार ले रहा है। जबकि...

असहिष्णुता के खिलाफ पदमश्री लौटाने वालीं सिरमौर पंजाबी लेखिका दलीप कौर टिवाणा नहीं रहीं

अंतरराष्ट्रीय स्तर की जानी-मानी पंजाबी लेखिका दलीप कौर टिवाणा का शुक्रवार शाम फेफड़ों की बीमारी के कारण मोहाली में देहांत हो गया। वह 84 साल की थीं। उन्हें भारतीय साहित्य अकादमी, सरस्वती सम्मान और पदमश्री से नवाजा जा चुका...
- Advertisement -spot_img

Latest News

जन्मदिन पर विशेष: गांधी ने चाही थी गणेश शंकर जैसी मौत

25 मार्च, 1931 को कानपुर में एक अत्यंत दुःखद घटना हुयी थी। एक साम्प्रदायिक उन्माद से भरी भीड़ ने...
- Advertisement -spot_img