Saturday, June 10, 2023

rituals

आदिवासी सरना समाज अनजाने में हिन्दू गिरफ्त में तो नहीं आ जा रहा?

झारखंड की राजधानी में आदिवासियों के हृदयस्थल करमटोली चौक स्थित केंद्रीय धुमकुड़िया में आज भवन निर्माण कार्यक्रम आयोजित हो रहा है। बड़े-बड़े सुंदर चेहरों के साथ पूरा पोस्टर, नेता, कार्यकर्ता के फोटोज आये हुए हैं। बहुत खुशी की बात...

जयंती पर विशेष: हर तरह का पाखंड बना देवताले की कलम का निशाना

हिंदी साहित्य में साठ के दशक में नई कविता का जो आंदोलन चला, चंद्रकांत देवताले इस आंदोलन के एक प्रमुख कवि थे। गजानन माधव मुक्तिबोध, नागार्जुन, शमशेर बहादुर सिंह, केदारनाथ अग्रवाल जैसे कवियों की परंपरा से वे आते थे।...

Latest News

अन्याय के 1000 दिन, प्रतिरोध और आंदोलन के हजार दिन!

नई दिल्ली। “यह 1000 दिनों की कैद के साथ-साथ 1000 दिनों का प्रतिरोध भी है। उमर खालिद यह सुनकर...