Friday, October 22, 2021

Add News

Rohit Vemula

अब सामाजिक और आर्थिक अन्याय के विरुद्ध अलग-अलग संघर्षों का वक्त नहीं

आज के हालात में जब दुनिया भर में राष्ट्रोनमादी, दक्षिणपंथी ताकतों की मुखरता आक्रामक है; भारत पर सांप्रदायिक फासीवाद के बादल मंडरा ही नहीं रहे हैं, किस्तों में बरस भी रहे हैं; प्रतिरोध की ताकतें खंडित-विखंडित हैं; जनपक्षीय ताकतें...

उत्पीड़न के हर रूप के खिलाफ रोहित वेमुला बन गए हैं संघर्ष के प्रेरणा स्रोत

आज ही के दिन, यानी 17 जनवरी को ही, 2016 में हैदराबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के शोध छात्र रोहित वेमुला की सांस्थानिक हत्या की गई थी। यह हत्या एक दिन में नहीं हुई थी, बल्कि कई महीनों के शोषण और...

शिक्षा नीतिः ऑनलाइन शिक्षा के दायरे से 70 फीसदी बच्चे हो जाएंगे बाहर

कांग्रेस ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 (एनईपी 2020) की आलोचना की है। पार्टी ने कहा है कि इसका उद्देश्य ‘स्कूल एवं उच्च शिक्षा’ में परिवर्तनकारी सुधार लाना होना चाहिए, वह केवल शब्दों, चमक-दमक, दिखावे और आडंबर के आवरण तक...

शाहीन बाग की महिलाओं ने बाग के मानी बगावत कर दिया

शहंशाह को बागों से बहुत शिकायत है उसने अपनी डायरी में लिख लिया बाग के माने बगावत हैं @सोनी पांडेय  आज (26 जनवरी, 2020) जब राजधानी के राजपथ पर सैन्य बल के  प्रदर्शन से देश के 70वें गणतंत्र का उत्सव मानाया जा...

शाहीन बाग से शुरू हुआ पढ़ने-पढ़ाने का भी आंदोलन

शाहीन बाग़ में किताबों का जो एक पौधा रोपा गया था, वो पेड़ की शक़्ल अख़्तियार कर रहा है। उसकी एक जड़ हौज़ रानी के गांधी पार्क में फूटी है, जैसे कि शाहीन बाग़ के आंदोलन की जड़ें यहां-वहां...

रोहित वेमुला की शहादत रंग लाई, हैदराबाद यूनिवर्सिटी छात्र संघ में एबीवीपी का सूपड़ा साफ

नई दिल्ली/ हैदराबाद। जेएनयू और डीयू के बाद हैदराबाद यूनिवर्सिटी के भी छात्र संघ के चुनाव में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) को हार का सामना करना पड़ा है। यहां वामपंथी/आंबेडकरवादी छात्रों ने ज़बर्दस्त जीत हासिल की, जबकि आरएसएस-बीजेपी से...

रोहित के बाद अनिता: क्यों टूटा एक और चमकता सितारा?

तमिलनाडु एक बार फिर जल रहा है- जल्लिकट्टू आन्दोलन के बाद अब पुनः सभी दलों के नेताओं से लेकर फिल्मी दुनिया के लोगों को जन-भावनाओं के समक्ष सिर झुकाना पड़ रहा है। 2 दिन पहले 17 वर्ष की छात्रा अनिता,...
- Advertisement -spot_img

Latest News

सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जज की अध्यक्षता में हो निहंग हत्याकांड की जांच: एसकेएम

सिंघु मोर्चा पर आज एसकेएम की बैठक सम्पन्न हुई। इस बैठक में एसकेएम ने एक बार फिर सिंघु मोर्चा...
- Advertisement -spot_img