Sunday, October 24, 2021

Add News

sudarshan

जहरीले डिबेट कराने वाले टीवी एंकरों को सुप्रीम संदेश

उच्चतम न्यायालय की इलेक्ट्रानिक मीडिया के जहरीले, साम्प्रदायिक, किसी की भी खिल्ली उड़ने और मानहानि कारक प्रसारण तथा हेटस्पीच पर भृकुटी टेढ़ी है। इलेक्ट्रानिक मीडिया में जो आजकल चल रहा है उस पर उच्चतम न्यायालय ने सख़्त रुख अख्तियार किया है। सुरेश...

सुप्रीम फटकार के बाद नींद से जागा एनबीएसए, सुशांत मामले में ‘आज तक’ समेत कई चैनलों पर लगाया जुर्माना

सुदर्शन न्यूज टीवी के विवादास्पद शो के खिलाफ मामले की सुनवाई के दौरान उच्चतम न्यायालय की फटकार के बाद न्यूज़ ब्रॉडकास्टिंग स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी (एनबीएसए) की तन्द्रा टूटी है और एनबीएसए ने इलेक्ट्रॉनिक समाचार चैनल आजतक, जी न्यूज, न्यूज 24 और इंडिया टीवी को...

सुदर्शन टीवी मामले में केंद्र को होना पड़ा शर्मिंदा, सुप्रीम कोर्ट के सामने मानी अपनी गलती

जब उच्चतम न्यायालय ने केंद्र सरकार से जवाब तलब किया कि सुदर्शन टीवी पर विवादित शो 'यूपीएससी जिहाद' के प्रसारण की अनुमति दी गयी तो क्या उस कार्यक्रम के कंटेंट पर नजर रखी गयी? तब केंद्र सरकार ने उच्चतम...

मीडिया को सुप्रीम संदेश- किसी विशेष समुदाय को लक्षित नहीं किया जा सकता

उच्चतम न्यायालय ने सुदर्शन टीवी के सुनवाई के "यूपीएससी जिहाद” मामले की सुनवायी के दौरान कहा कि एक संदेश को मीडिया में जाने दें कि किसी विशेष समुदाय को लक्षित नहीं किया जा सकता है। जस्टिस  चंद्रचूड़ ने कहा...

‘सुदर्शन न्यूज़’ की पीठ पर दिल्ली हाईकोर्ट का डंडा, नफ़रती कार्यक्रम के प्रसारण पर लगाई रोक

खुलकर हिन्दू पत्रकारिता के नाम पर साम्प्रदायिकता कर रहे सुदर्शन न्यूज़ के संपादक सुरेश चव्हाणके को शुक्रवार को दिल्ली हाई कोर्ट से तगड़ा झटका लगा है। सुरेश चव्हाण के 28 अगस्त से रात 8 बजे 'नौकरशाही जिहाद' नाम से...

रायपुर में जमीन संबंधी झगड़े को सांप्रदायिक रंग देने के लिए सुदर्शन चैनल के रिपोर्टर के खिलाफ मामला दर्ज

रायपुर। छत्तीसगढ़ साम्प्रदायिक सौहाद्र के लिए पूरे देश मे एक आदर्श सूबे के रूप में स्थापित है। आदिवासी बाहुल्य इस सूबे के ज्यादातर जिले पांचवीं अनुसूचित क्षेत्र में आते हैं। ये लोग बरसों से मिल-जुलकर आपस में रहते आए हैं। इनमें कभी...
- Advertisement -spot_img

Latest News

कोविड काल के दौरान बच्चों में सीखने की प्रवृत्ति का हुआ बड़े स्तर पर ह्रास

कोविड काल में बच्चों में सीखने की प्रवृत्ति का काफी बड़ा नुकसान हुआ है। इसका खुलासा ज्ञान विज्ञान समिति...
- Advertisement -spot_img