Tuesday, January 18, 2022

Add News

vidhan

ब्राह्मण, दलित और मुस्लिम समीकरण के बल पर सत्ता तक पहुंचने की बीएसपी की कोशिश

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव में भले ही कुछ महीने शेष हों लेकिन चुनावी गतिविधियां पूरे जोर शोर से शुरू हो चुकी हैं। हर दल अपने लिये खास वर्ग समुदाय के मतदाता को साधने के साथ ही नये समीकरणों...

हजारों ग्रामीण-खेतिहर-मनरेगा मजदूरों ने पटना की सड़कों पर किया मार्च

पटना। गांव से लेकर शहर तक नई आवास नीति बनाने के केंद्रीय नारे के साथ आज खेग्रामस-मनरेगा मजदूर सभा के संयुक्त तत्वावधान में बिहार विधानसभा मार्च में हजारों की संख्या में दलित-गरीब, मनरेगा मजदूर पटना पहुंचे। 12 बजे गेट...

पाटलिपुत्र का रण: जनता के मूड को भांप पाना मुश्किल

प्रगति के भ्रम और विकास के सच में झूलता बिहार 2020 के अंतिम दौर में एक बार फिर प्रदेश की 17 वीं विधान सभा के चुनाव के मुहाने पर आ पहुँचा है। ज्ञान और नीतियों की भूमि किस अंतर्द्वंद्व में पिछले 68 सालों से उलझी है ये आज...

यूपी के विधानसभा उपचुनावों में पूरी ताकत के साथ उतरेगी कांग्रेस, आवेदन लेने के लिए बनायी कमेटी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में आगामी होने वाले उपचुनावों के मद्देनजर कांग्रेस पार्टी ने अपने संगठन के कील-कांटे दुरुस्त करते हुए, पूरी ताकत से उपचुनावों में उतरने का फैसला लिया है। गौरतलब है कि आने वाले दिनों में प्रदेश में 8...

देश विरोधी और गरीब विरोधी ताकतें जनता में घोल रही हैं नफरत और हिंसा का जहर: सोनिया गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार पर एक बार फिर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि पिछले कुछ समय से हमारे देश को पटरी से उतारने की कोशिश की जा रही है। हमारे लोकतंत्र...

जनता की लाशों पर वोट की फसल काटना चाहती हैं बीजेपी-जेडीयू : माले

पटना। भाकपा-माले की बिहार विधानसभा चुनाव में विपक्षी दलों के बीच चुनावी तालमेल के लिए गठित कमेटी की ओर से आज प्रेस बयान जारी करके कहा गया है कि आज जब पूरा बिहार कोरोना महामारी, लाॅकडाउन, बाढ़ व भयानक...

धार्मिक आज़ादी छीनने पर उतारू है उत्तराखंड की त्रिवेंद्र रावत सरकार

उत्तराखंड की भाजपा सरकार, दिसंबर 2019 में  विधानसभा के शीतकालीन सत्र में तीर्थ स्थलों के संदर्भ में एक विधेयक लाई जिसका शुरुआती नाम-उत्तराखंड श्राइन बोर्ड विधेयक था। बाद में विधानसभा में इसका नाम-उत्तराखंड देवस्थानम विधेयक,2019 हो गया। इस विधेयक...
- Advertisement -spot_img

Latest News

पुस्तक समीक्षा: सर सैयद को समझने की नई दृष्टि देती है ‘सर सैयद अहमद खान: रीजन, रिलीजन एंड नेशन’

19वीं सदी के सुधारकों में, सर सैयद अहमद खान (1817-1898) कई कारणों से असाधारण हैं। फिर भी, अब तक,...
- Advertisement -spot_img