Monday, July 4, 2022

who

कोरोना काल में सेवा के दौरान 2903 रेलवे कर्मचारियों ने दी कुर्बानी, न्यूनतम सुविधाएं तक नहीं हुईं मयस्सर

मोदी सरकार द्वारा 24 मार्च 2020 को पूर्ण तालाबंदी की घोषणा करने से कुछ दिन पहले, 22 मार्च 2020 को भारतीय रेलवे का ‘कोलोसस’ पूरी तरह थम गया। इतिहास में पहली बार, इसने 3 महीने तक सामान्य ट्रेन सेवाओं...

भारत में कोरोना की तीसरी लहर में फुल लॉकडाउन की जरूरत नहीं: विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन

दैनिक जागरण में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने कहा है कि भारत में कोरोना वायरस की तीसरी लहर के बावजूद फुल लाकडाउन लगाने की जरूरत नहीं है। संगठन ने कहा है कि भारत जैसे देश...

ओमिक्रॉन कितना संक्रामक और कैसे करें इससे बचाव?

कीटाणु की संक्रामकता 2 तथ्यों पर निर्भर होती है कि वह कितनी आसानी से फैलता है और इंसान की रोग-प्रतिरोधक क्षमता से वह कितनी सफलता से बच सकता है। चूँकि ओमिक्रोन कोरोना वाइरस के शिखर पर 'स्पाइक' प्रोटीन में...

ओमिक्रॉन शायद अधिकांश देशों में फैल चुका है: डब्ल्यूएचओ

"ओमिक्रॉन उस दर से फैल रहा है जिसे हमने किसी पिछले संस्करण के साथ नहीं देखा है। हम चिंतित हैं कि लोग ओमिक्रॉन को हल्के में लेते हुए उसे ख़ारिज़ कर रहे हैं ... भले ही ओमिक्रॉन कम गंभीर...

कोविशील्ड, फाइजर, जॉनसन की वैक्सीन को भेदने में ओमीक्रोन कामयाब

दुनिया की प्रतिष्ठित पत्रिका द नेचर में प्रकाशित एक लेख में कहा गया है कि दक्षिण अफ्रीका में जिन लोगों को ओमीक्रोन का संक्रमण हुआ, उनमें कुछ ने जॉनसन एंड जॉनसन, कुछ ने फाइजर-बायोएनटेक और कुछ ने ऑक्सफर्ड-एस्ट्राजेनेका (कोविशील्ड)...

एड्स दिवस: जब एचआईवी पोज़िटिव लोग सामान्य ज़िंदगी जी सकते हैं तो फिर 2020 में एड्स से 680,000 मौतें क्यों?

"जब वैज्ञानिक उपलब्धियों के कारण और सामुदायिक अनुभव से हम यह जानते हैं कि एचआईवी के साथ जीवित व्यक्ति कैसे सामान्य ज़िंदगी जी सकता है तो 2020 में 6.8 लाख लोग एड्स सम्बंधित रोगों से कैसे मृत हुए? कौन...

कोरोना के ओमिक्रोन वैरियंट्स को लेकर तमाम राज्यों में अलर्ट, 9 देशों में फैला

कोरोना के दक्षिण अफ्रीकी वैरियंट्स ओमिक्रॉन को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने ख़तरनाक बताया है और इसे 'बेहद संक्रामक चिंताजनक स्वरूप' करार दिया है। वहीं दुनिया के तमाम देश इसके संक्रमण से बचने को लेकर सतर्क हो गए हैं।...

भारत में बहुत चिंताजनक है बाल कुपोषण का स्तर

कुपोषण भारत की गम्भीरतम समस्याओं में एक है फिर भी इस समस्या पर सबसे कम ध्यान दिया गया है। आज भारत में दुनिया के सबसे अधिक अविकसित (4.66 करोड़) और कमजोर (2.55 करोड़) बच्चे मौजूद हैं। ध्यातव्य है कि...

कोव‍िशील्‍ड की डोज लेने के बाद भी नहीं बनी एंटीबॉडी, लखनऊ के शख्स ने अदार पूनावाला के खिलाफ़ दर्ज़ कराई शि‍क़ायत

टूर एंड ट्रैवेल का बिजनेस करने वाले लखनऊ के प्रताप चंद्र गुप्ता ने पुलिस में शिक़ायत दर्ज़ करवाते हुये कहा है कि उनके साथ धोखा हुआ है, क्योंकि कंपनी के दावे के बावजूद उनके शरीर में एंटीबॉडी नहीं बनी।...

सीरम कंपनी के निदेशक ने कहा- वैक्सीन शॉर्टेज के लिये मोदी सरकार जिम्मेदार

केंद्र सरकार ने डब्ल्यूएचओ के दिशानिर्देशों और अपने पास मौजूद टीकों के स्टॉक का आकलन किए बिना ही विभिन्न आयु वर्गों के लोगों का टीकाकरण शुरू कर दिया, टीका की कमी के जो हालात हैं उसके लिये केंद्र सरकार...
- Advertisement -spot_img

Latest News

अमेरिकी एनआरआई का चीफ जस्टिस को खुला पत्र, कहा- क्या मुझे भारत की न्यायपालिका पर विश्वास करना चाहिए?

मुक्त भूमि, संयुक्त राज्य अमेरिका में आपका बहुत-बहुत स्वागत है। जैसा कि हम यहां आपको बोलते हुए सुनने के...
- Advertisement -spot_img