Thursday, December 2, 2021

Add News

सुशांत सिंह राजपूत की बहन को बॉम्बे हाईकोर्ट से बड़ा झटका, एफआईआर रद्द करने से किया इनकार

ज़रूर पढ़े

आपने सुना होगा कि गये थे हरिभजन को ओटन लगे कपास । कुछ ऐसा ही हाल बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े एक मामले की सुनवाई के दौरान उनकी एक बहन को बॉम्‍बे हाईकोर्ट से मिले झटके से हुआ है। बॉम्बे हाईकोर्ट ने एफआईआर रद्द करने से इनकार कर दिया है।

एक्‍ट्रेस रिया चक्रवर्ती की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर खारिज कराने के लिए सुशांत की बहनों मीतू और प्रियंका ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी।बॉम्बे हाईकोर्ट ने सुशांत सिंह की बहन प्रियंका उनके खिलाफ दर्ज करवाई गई एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया है। हालांकि हाईकोर्ट ने राजपूत की बहन मीतू के खिलाफ दर्ज करवाई गई एफआईआर को रद्द किया है।

बीते साल 7 सितंबर को रिया चक्रवर्ती ने मुंबई के बांद्रा पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज करवाई थी। इस एफआईआर में सुशांत की बहन प्रियंका सिंह, मीतू सिंह और डॉक्टर तरुण कुमार को आरोपी बनाया गया था। एफआईआर के अनुसार, सुशांत की बहन प्रियंका सिंह ने दिल्ली के सरकारी अस्पताल राम मनोहर लोहिया के डॉक्टर तरुण कुमार से मिली भगत कर सुशांत के लिए फर्जी प्रिस्क्रिप्शन लिखवाया। मानसिक रूप से बीमार सुशांत को बिना देखे और बात किए डॉक्टर ने दवाई लिख दी। रिया के मुताबिक यह टेलीमेडिसिन कानून 2020 के खिलाफ है।रिया ने यह भी आरोप लगाया था कि 8 जून को दवाई लिखी गई और 14 जून को सुशांत ने सुसाइड कर लिया, इसलिए बहन प्रियंका सिंह, मीतू सिंह और डॉक्टर तरुण कुमार पर खुदकुशी के लिए मजबूर करने का आरोप भी बनता है।

रिया द्वारा दर्ज कराए गए इस केस के बाद सुशांत की बहनों ने बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और उन्होंने रिया की एफआईआर को रद्द करने की मांग की थी।बहनों ने याचिका में कहा था कि रिया चक्रवर्ती की शिकायत बेबुनियाद है और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा था कि रिया ने एफआईआर केवल इसलिए दर्ज कराई है ताकि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले से ध्यान भटकाया जा सके।

सुशांत सिंह राजपूत 14 जून, 2020 को बांद्रा स्थित अपने अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे। एक तरफ जहां मुंबई पुलिस इसे सुसाइड मानकर चल रही थी,वहीं दूसरी ओर सुशांत के परिवार ने इसे सुसाइड के लिए उकसाने का मामला बताया।उन्होंने रिया चक्रवर्ती पर सुशांत को जबरदस्ती ड्रग्स देने और उसे आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया था। इस मामले की जांच अब सीबीआई द्वारा की जा रही है।

इससे सीबीआई को भी करारा झटका लगा है जो अभी तक सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जाँच को अंतिम परिणति तक नहीं पहुंचा पायी है।दरअसल सीबीआई अभी तक रिया चक्रवर्ती और सुशांत के दोस्तों को ही केंद्र में रखकर इस मामले की जाँच कर रही थी लेकिन रिया के इस एफआईआर ने सीबीआई के हाथ बांध रखे हैं क्योंकि सीबीआई को इसका अंदाजा ही नहीं है कि कोर्ट इसे निरस्त करेगा अथवा नहीं।अब यदि सुप्रीम कोर्ट से सुशांत की बहन को कोई राहत नहीं मिली तो सीबीआई को इस एंगिल पर भी जाँच करके अपना निष्कर्ष देना पड़ेगा।  

(वरिष्ठ पत्रकार जेपी सिंह की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

अबूझमाड़ के आदिवासियों का हल्ला बोल! पुलिस कैंप के विरोध में एकजुट हुए ग्रामीण

बस्तर। बस्तर में आदिवासियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। सिलगेर, एड्समेटा के बाद अब नारायणपुर जिले...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -