मध्य प्रदेश: गैंगरेप का आरोपी बीजेपी नेता फरार

Estimated read time 1 min read

मध्य प्रदेश के शहडोल जिले के जैतपुर बीजेपी मंडल अध्यक्ष और उसके दोस्तों पर 20 वर्षीय युवती ने गैंगरेप का आरोप लगाया है। युवती के मुताबिक भाजपा नेता और उसके तीन साथियों द्वारा उसे अगवा कर एक फार्म हाउस में ले जाया गया, जहां नशीला पदार्थ देकर आरोपियों ने तीन दिन तक युवती के साथ गैंगरेप किया। पीड़िता को गंभीर हालत में उसके घर के सामने छोड़ दिया गया। परिजनों ने चार लोगों के खिलाफ जैतपुर थाने में शिकायत दर्ज करवाई है। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है, लेकिन अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

पीड़िता के परिजनों ने पुलिस को बताया कि आरोपियों ने युवती के साथ तीन दिन तक गैंगरेप किया और फिर 20 फरवरी को पीड़िता को उसके घर के सामने फेंक कर फरार हो गए। पीड़िता की गंभीर स्थिति को देखते हुए जैतपुर से शहडोल रेफर कर दिया गया है। वहीं भाजपा नेता पर गैंगरेप के मामले में एफआईआर दर्ज होते ही उसे पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया गया है। भाजपा जिलाध्यक्ष ने पत्र जारी कर इसकी जानकारी दी है।

भाजपा नेताओं पर रेप और गैंगरेप के आरोपों की एक लंबी श्रृंखला है। पिछले महीने यानी 13 जनवरी 2021 को उत्तर प्रदेश के जालौन जनपद के भगत सिंह नगर कॉलोनी से भाजपा नगर उपाध्यक्ष रामबिहारी नाबालिग बच्चों की गिरफ्तारी यौन शोषण करने पर हुई थी। भाजपा नेता बच्चों को काम के बहाने अपने घर बुलाता था फिर उनको नशीला पदार्थ पिलाकर उनका यौन शोषण कर पोर्न वीडियो बनाता था।

पुलिस को आरोपी नेता के लैपटॉप और मोबाइल से 320 अश्लील वीडियो मिले, इसमें कई वीडियो तो स्थानीय बच्चों के साथ ही बनाए गए थे। पुलिस की छानबीन में सामने आया है कि आरोपी ने 36 बच्चों के साथ इसी तरह की गंदी हरकत की थी। यही नहीं, 2-3 गरीब महिलाएं भी हैं, जिनको राशन कार्ड और अन्य काम के बहाने घर बुलाया गया और फिर नशीला पदार्थ खिलाकर बलात्कार की वारदात को अंजाम दिया गया था।

16 सितंबर 2020 को भाजपा युवा मोर्चा के काशी क्षेत्र के उपाध्यक्ष श्याम प्रकाश द्विवेदी समेत दो लोगों के खिलाफ कर्नलगंज थाने में गैंगरेप का मुकदमा दर्ज किया गया। पीडि़त का आरोप है कि अक्तूबर 2019 से लेकर आठ महीने तक उसके साथ कई बार गैंगरेप किया गया। शहर की एक युवती और उसके परिवार का एक भूखंड खरीदने के सिलसिले में भाजपा नेता श्याम प्रकाश द्विवेदी और अनिल द्विवेदी से संपर्क हुआ था। आरोप है कि इसी दौरान दोनों ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर युवती से गैंगरेप किया।

वहीं 20 दिसंबर 2019 को तीस हजारी कोर्ट ने उन्नाव के बांगरमऊ से भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर एक रेप के जुर्म में आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

बता दें कि भाजपा विधायक सेंगर की करीबी महिला शशि सिंह पीड़िता को लेकर 4 जून 2017 को नौकरी दिलवाने के लिए लड़की को साथ लेकर गई थी और उसे वहीं छोड़कर चली गई थी। जहां उस किशोरी के साथ भाजपा विधायक ने बलात्कार किया था।

वहीं भाजपा के पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर नाबिलग छात्रा से रेप का आरोप था, जिसे योगी आदित्यनाथ ने खत्म कर दिया था। इसके बाद 24 अगस्त 2019 को उनका एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वो नग्न अवस्था में एक छात्रा से मालिश करवा रहे हैं। उक्त छात्रा ने भी उन पर रेप का आरोप लगाया था, लेकिन बाद में भाजपा राज में यूपी पुलिस ने केस को उल्टा करके पीड़िता को ही ब्लैकमेल करने के आरोप में धर लिया। इसके बाद पीड़िता ने केस वापस ले लिया था।

इससे पूर्व जून जुलाई 2013 में भारतीय जनता पार्टी के बुजुर्ग नेता और मध्य प्रदेश सरकार में वित्‍त मंत्री राघव जी को अपने नौकर राजकुमार दांगी से दुष्कर्म के आरोप में जेल की हवा खानी पड़ी थी। पार्टी ने उन्हें छह साल के लिए निलंबित करने से पहले भाजपा नेता की सीडी बनाकर उनकी पोल खोलने वाले भाजपा नेता शिवशंकर पटेरिया को प्राथमिक सदस्‍यता से निलंबित किया था।

You May Also Like

More From Author

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments