34.4 C
Delhi
Thursday, August 5, 2021

किसान परेड से घबराई सरकार, यूपी के पेट्रोल पंपों पर ट्रैक्टर में डीजल देने की मनाही

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

गणतंत्र दिवस पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश से किसानों की दिल्ली में ट्रैक्टर परेड में तीन हजार ट्रैक्टरों के साथ 25 जनवरी को कूच करने की घोषणा के बाद से प्रशासन ने तैयारी शुरू कर दी है।

किसानों की 26 जनवरी की ट्रैक्टर परेड को फेल करने के लिए सरकार और प्रशासन अलोकतांत्रिक रवैया अपना रहा है। प्रशासन की ओर से कहा गया है कि ट्रैक्टर-ट्रॉली और बोतल में अब डीजल नहीं मिलेगा। इसके लिए शासन स्तर से निर्देश जारी हो गए हैं। इसके बाद पश्चिमी यूपी के कई जिलों में जिला पूर्ति अधिकारी ने सभी पेट्रोल पंपों को आदेश जारी कर दिए हैं।

मेरठ के जिलापूर्ति अधिकारी नीरज सिंह ने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर शासन की ओर से आदेश जारी किए गए हैं। विशेष तौर पर सतर्कता बरती जाएगी। उन्होंने कहा कि 26 जनवरी को किसानें की ट्रैक्टर परेड के मद्देनजर विशेष एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं। बोतल ड्रम या कृषि यंत्र लगे वाहनों में डीजल नहीं दिया जाएगा।

प्रशासन के आदेश की जानकारी मिलते ही भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने आज मीडिया को बताया कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसानों को ट्रैक्टरों में डीजल नहीं दिया जा रहा है। इसके बाबत मुरादाबाद, गाजीपुर समेत अन्य जगहों से किसानों के उनके पास फोन आए हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस प्रशासन के इस कदम पर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने किसानों से अपील करते हुए कहा है कि जो किसान जहां भी हैं, सड़कों को जाम कर बैठ जाएं।

इससे पहले कल शनिवार को भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत को मनाने के लिए कमिश्नर और डीआईजी सिसौली पहुंचे थे। हालांकि टिकैत ने स्पष्ट कर दिया वे ट्रैक्टर रैली निकाल कर ही दम लेंगे। उन्होंने कहा कि किसान स्वेच्छा से ट्रैक्टर रैली में शामिल हो रहे हैं, भाकियू ने सिर्फ आह्वान किया है।

वहीं स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव ने मीडिया से कहा, “दिल्ली पुलिस की तरफ से आधिकारिक रूप से 26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड निकालने की इजाज़त मिल गई है। जितने भी साथी अपनी ट्रालियां लेकर बैठे हैं। मैं उनसे अपील करता हूं कि सिर्फ ट्रैक्टर दिल्ली के अंदर लेकर आएं, ट्रालियां न लेकर आएं।”

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इंदौर में किसानों के समर्थन में ट्रैक्टर रैली निकाली। रैली के दौरान उन्होंने कहा, “भाजपा समझ नहीं रही है कि देश का बड़ा वर्ग किसान है। कृषि के निजीकरण के प्रयास से देश और हमारे प्रदेश की अर्थव्यवस्था की तबाही होगी।”

वहीं आज अखिल भारतीय किसान सभा के बैनर तले, महाराष्ट्र के किसानों ने दिल्ली की सीमाओं पर तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दो महीने से आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में नासिक से मुंबई तक विरोध मार्च निकाला।

वहीं कल सोमवार 25 जनवरी को मुंबई के आजाद मैदान में अखिल भारतीय किसान सभा की बड़ी रैली का आयोजन होगा। इस रैली को पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री और एनसीपी प्रमुख शरद पवार, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट और शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे संबोधित करेंगे। एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को ज्ञापन भी सौंपेगा।

वहीं किसानों के समर्थन में आज लुधियाना शहर में ट्रैक्टर मार्च निकाला गया। लोग इसे 26 जनवरी के ट्रैक्टर परेड की रिहर्सल भी बता रहे हैं।

Latest News

हॉकी खिलाड़ी वंदना के हरिद्वार स्थित घर पर आपत्तिजनक जातिवादी टिप्पणी करने वालों में एक गिरफ्तार

नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक में सेमीफाइनल मैच में भारतीय महिला हॉकी टीम के अर्जेंटीना के हाथों परास्त होने के...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Girl in a jacket

More Articles Like This

- Advertisement -