Tuesday, October 26, 2021

Add News

ममता ने मद्रास हाई कोर्ट के फैसले का किया स्वागत, कहा- कोरोना संक्रमित केंद्रीय बल वापस हों

ज़रूर पढ़े

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव अब अपने आखिरी चरणों में पहुंच गया है। आठ चरणों में होने वाले विधानसभा चुनाव में सातवें चरण का मतदान संपन्न हो गया। चुनाव आयोग की रिपोर्ट के अनुसार सभी 34 सीटों पर शाम 6.30 बजे तक 75.06 फीसदी मतदान हुआ। इसमें 284 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में बंद हो गई है। दोपहर 3.30 बजे तक दक्षिण दिनाजपुर जिले में 72.58%, मालदा 70.14% , मुर्शिदाबाद 72.66%, पश्चिम बर्दवान 62.42% और दक्षिण कोलकाता में 52.9% मतदान हुआ। हर बार की तरह इस बार भी छूटपुट हिंसक घटनाएं देखने के मिलीं। लेकिन बाकी चरणों के मुकाबले इस चरण में शांतिपूर्ण ढंग से मतदान हुआ।

मतदान में कोलकाता के बाद पश्चिम बंगाल के दूसरे सबसे बड़े शहर आसनसोल की सीटों में मत डाले गए। आसनसोल दक्षिण विधानसभा सीट पर पुलिस और तृणमूल कार्यकर्ताओं के बीच विवाद हुआ, जिसमें तृणमूल की प्रत्याशी सायनी घोष भी शामिल थीं। तृणमूल कार्यकर्ताओं द्वारा यह आरोप लगाया गया कि पुलिस ने पूर्व पार्षद विनोद यादव की पिटाई की है। चुनाव से पहले पश्चिम बर्दवान जिले की सबसे ज्यादा हॉट सीट पांडेश्वर, जहां पहले भी कई घटनाओं हुई थीं। आज मतदान के दौरान केंद्रीय सुरक्षा बल द्वारा पोलिंग एजेंट कृष्णेंदु चटर्जी को बेरहमी से पीटने का आरोप लगाया गया। वहीं आसनसोल नॉर्थ सीट पर तृणमूल कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा के कार्यकर्ताओं को पीटने का आरोप है।

वहीं दूसरी ओर जामुड़िया से सीपीआईएम की उम्मीदवार आईशी घोष ने तृणमूल के कार्यकर्ताओं पर माहौल खराब करने का आरोप लगाया। मालदा जिले के रतुआ इलाके के बखरा गांव में भाजपा के पोलिंग एजेंट शंकर साकर ने टीएमसी के कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाया कि तृणमूल कार्यकर्ताओं ने पोलिंग बूथ 91 पर उन्हें धक्का देकर वहां से भाग जाने के लिए कहा। शंकर साकार ने बताया कि गांव वालों ने यह कहते हुए उन्हें भगा दिया कि वह वहां के वोटर नहीं हैं।

34 सीटों में आज कोलकाता दक्षिण की सीट पर भी मतदान हुआ। जहां सूबे की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भवानीपुर में अपना वोट डाला। वहीं दूसरी ओर टीएमसी की सांसद नुसरत जहां ने भी अपने माता-पिता के साथ वोट डाला। राज्य के कानून मंत्री मलय घटक ने आसनसोल नॉर्थ में अपना वोट डाला। मतदान के दौरान ही कोरोना पर मद्रास हाई कोर्ट के एक फैसले का दीदी ने स्वागत करते हुए कोविड से संक्रमित केंद्रीय बलों को लौटने की मांग की है। मुख्यमंत्री ने भाजपा पर टिप्पणी करते हुए उसे तोता बताया। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि बीजेपी हर सीट पर चुनाव हार जाएगी।

(पश्चिम बंगाल से पूनम मसीह की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

हाल-ए-यूपी: बढ़ती अराजकता, मनमानी करती पुलिस और रसूख के आगे पानी भरता प्रशासन!

भाजपा उनके नेताओं, प्रवक्ताओं और कुछ मीडिया संस्थानों ने योगी आदित्यनाथ की अपराध और भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त फैसले...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -