Friday, October 22, 2021

Add News

भोजपुर से पूर्णिया तक सामंती-अपराधियों का तांडव, नीतीश वर्चुअल रैली में व्यस्त: माले

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

पटना। भाकपा-माले के राज्य सचिव कुणाल ने भोजपुर जिले के एकवारी में 70 वर्षीय नथुनी रवानी और पूर्णिया के बनमनखी के जानकीनगर में अनमोल रीषिदेव और सुबोध रीषिदेव की बर्बर हत्या पर कड़ा एतराज जताया है। ये हत्याएं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की होने वाली वर्चुअल रैली के दो दिन पहले हुई है। 7 सितंबर को अपनी वर्चुअल रैली में सरकार ने पूरे प्रशासन को झोंक दिया है और इधर सामंती-अपराधी दलितों-गरीबों पर कहर बनकर टूट पड़े हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव में भाजपा-जदयू सरकार को बिहार की जनता निश्चित तौर पर सबक सिखाएगी।

सहार के एकवारी में घटना की जानकारी मिलते ही तरारी विधायक सुदामा प्रसाद, मनोज मंजिल, रघुवर पासवान सहित सभी वरिष्ठ नेता घटनास्थल पर पहुंच गए। माले विधायक सुदामा प्रसाद ने बताया कि रात दो बजे सोई अवस्था में नथुनी रवानी की हत्या कर दी गई। हमले में उनकी बहू को भी गोली लगी है, जो गोली चलने की आवाज सुनकर बाहर आई थीं और अभी आरा सदर अस्पताल में भर्ती हैं।

माले नेताओं ने बताया कि घटना में शामिल चार लोगों में से दो लोगों की गिरफ्तारी हुई है। माले नेताओं ने सभी घायलों को मुआवजा और मुख्यमंत्री द्वारा हाल ही में दिए गए आदेश, जिसमें उन्होंने कहा था कि किसी दलित-गरीब परिवार में हत्या होने पर एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी दी जाएगी, के तहत नौकरी की मांग करते हुए घंटों मुख्य पथ को जाम रखा। जाम स्थल पर एएसपी के आने और यथोचित मुआवजा देने के बाद जाम समाप्त किया गया।

घटना में मारे गए नथुनी रवानी के पुत्र संतोष रवानी ने घटना का कारण बताते हुए कहा कि संतोष रवानी सटरिंग का काम करते हैं. जबकि पूरी पूंजी ठेकेदार सुदर्शन सिंह की लगी हुई है। सुदर्शन सिंह ने संतोष रवानी को एक मोटरसाईकिल भी खरीद कर दी है, लेकिन 4 सितंबर को किसी विवाद को लेकर सुदर्शन सिंह का भतीजा मोटरसाइकिल छीनने आ पहुंचा, जिसको लेकर झंझट हुआ। वहां से संतोष रवानी किसी प्रकार जान बचाकर भागे। संभवतः हत्यारे संतोष रवानी की ही हत्या करने पहुंचे थे, लेकिन उनके पिता को गोली मारकर चले गए।

वहीं, बनमनखी में सामंती-अपराधियों ने भूमि से रीषिदेव लोगों को बेदखल करने की मंशा से रीषिदेव टोले पर हमला किया और दो लोगों की हत्या कर दी। भाकपा-माले के स्थानीय नेता नित्यानंद रीषिदेव और चनेश्वरी रीषिदेव घटना स्थल पर पहुंचे और मामले की पूरी जानकारी ली।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

अडानी-भूपेश बघेल की मिलीभगत का एक और नमूना, कानून की धज्जियां उड़ाकर परसा कोल ब्लॉक को दी गई वन स्वीकृति

रायपुर। हसदेव अरण्य क्षेत्र में प्रस्तावित परसा ओपन कास्ट कोयला खदान परियोजना को दिनांक 21 अक्टूबर, 2021 को केन्द्रीय...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -