Wed. Jan 29th, 2020

संजय कुमार सिंह

1 min read

आज के ज्यादातर अखबारों में जेएनयू में नकाबपोश गुंडों का हमला - लीड खबर है। भिन्न अखबारों ने इसे अलग...

1 min read

प्रदूषण फैलाने वाले बड़े देशों को छोटे देशों के दबाव का सामना करना पड़ा और जलवायु परिवर्तन के खिलाफ वैश्विक...

1 min read

हर कोई अर्थशस्त्री है - घरेलू बजट तैयार करने वाली गृहणी से लेकर दूध बेचने वाले गोपालकों तक और पुर्जे...

1 min read

अयोध्या के फैसले पर अंग्रेजी अखबार 'द टेलीग्राफ' में प्रकाशित, सुप्रीम कोर्ट के रिटायर जज न्यायमूर्ति अशोक कुमार गांगुली की...

1 min read

वैसे तो विनोबा भावे (1958) से लेकर अमिताभ चौधरी (1961), वर्गीज कुरियन (1963), जयप्रकाश नारायण (1965), सत्यजीत राय (1967), गौर...