Thursday, December 2, 2021

Add News

ट्रैक्टर परेड के दौरान हुए बवाल को लेकर 26 किसान नेताओं पर एफआईआर

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

26 किसान नेताओं पर कल ट्रैक्टर परेड के दौरान दिल्ली में हिंसा के लिए एफआईआर दर्ज की गई है। इनमें डॉक्टर दर्शन पाल, योगेंद्र यादव, सतनाम पन्नू, जोगिंदर सिंह, बलवीर सिंह राजेवाल, राकेश टिकैत, सरवन सिंह, सतनाम पन्नू, हरपाल सांगा, भोग सिंह मनसा, जोगिंदर सिंह, वीएम सिंह, सतनाम सिंह, मुकेश चंद्र, ऋषि पाल अंबावत, प्रेम सिंह गहलोत, कृपाल सिंह नाटूवाला, जोगिंदर सिंह, सुरजीत सिंह फूल, प्रेम सिंह गहलोत, सुखपाल सिंह डाफर, बूटा सिंह, बलदेव सिंह सिरसा, जगबीर सिंह टाडा का नाम प्रमुख है।

इस बीच गृह मंत्री अमित शाह की भी दिल्ली के पुलिस कमिश्नर और आईबी चीफ के साथ बैठक हुई। दिल्ली कमिश्नर ने बैठक में गृह मंत्री को कल ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाबत रिपोर्ट सौंपी है। दिल्ली पुलिस ने बताया है कि 26 जनवरी को आंदोलनकारी किसानों द्वारा दिल्ली पुलिस पर हमला करने से 300 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए हैं।

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुए बवाल के बाद आज दिल्ली पुलिस ने दस धाराओं में केस दर्ज किया है। इनमें डकैती की धाराएं भी हैं। दिल्ली पुलिस ने IPC Sec 395 (डकैती), 397 (डकैती, या डकैती, मौत या शिकायत पर चोट पहुंचाने की कोशिश), 120 b (आपराधिक साजिश की सजा) और अन्य धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने जानकारी दी है कि दिल्ली पुलिस आज शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कल हुई हिंसा को लेकर सभी सवालों के जवाब देगी। इस दौरान प्रकाश जावड़ेकर ने ये भी कहा कि सरकार ने ये कभी नहीं बोला कि किसानों के साथ बातचीत का स्कोप खत्म हो गया है।

नई दिल्ली में चौकसी बढ़ती जा रही है। सभी वीआईपी जगहों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। भारी संख्या में दिल्ली पुलिस और अर्ध सैनिक बल तैनात किया गया है। एचएम और पीएम आवास की तरफ जाने वाले मार्गों पर विशेष नजर रखी जा रही है।

सिंघु बॉर्डर, गाजीपुर बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर पर भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात हैं। बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का विरोध-प्रदर्शन जारी है। इसके अलावा कनॉट प्लेस आईटीओ, लालकिले पर भी भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। मिंटो रोड से कनाट प्लेस जाने वाले मार्ग को बंद कर दिया गया है। गाज़ीपुर मंडी, नेशनल हाइवे-9 और नेशनल हाइवे-24 को बंद कर दिया गया है।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

भारतीय कृषि के खिलाफ साम्राज्यवादी साजिश को शिकस्त

भारतीय किसानों ने मोदी सरकार को तीनों कृषि कानून वापस लेने के लिए  बाध्य कर दिया। ये किसानों की...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -