गैंगस्टर विकास दुबे की गोली मारकर हत्या

नई दिल्ली। जैसी कि आशंका थी विकास दुबे की गोली मार कर हत्या कर दी गयी। बताया जा रहा है कि जिस स्कार्पियो से उसे ले आया जा रहा था रास्ते में वह पलट गयी और फिर उसने एक पुलिसकर्मी का हथियार छीन कर भागने की कोशिश की। लेकिन पुलिस वालों ने उसे गोली मार दी।

इस घटना में यूपी पुलिस के कई जवानों को भी चोट आयी है। एएनआई ने इस बात की पुष्टि की है। 

बताया जा रहा है कि एनकाउंटर कानपुर के पास सचेंदी सीमा पर हुआ है। इस घटना में दो पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। पुलिस के सूत्रों का कहना है कि दुबे ने गाड़ी से उतर कर भागने की कोशिश की थी। बताया जा रहा है कि विकास की सवारी वाली स्कार्पियो अचानक पलट गयी। आपको बता दें कि विकास को गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर परिसर से गिरफ्तार किया गया था।

हालांकि लोग इसे सरेंडर मान रहे हैं। बाद में यूपी पुलिस वहां पहुंची थी और उसने एमपी पुलिस से विकास की कस्टडी अपने हाथ में ली थी। और फिर वह कानपुर के लिए सड़क के रास्ते विकास को लेकर रवाना हो गयी थी।

कानपुर-पुलिस का आधिकारिक बयान-

अवगत कराना है कि थाना चौबेपुर पर दिनांकः 03.07.2020 को पंजीकृत मु0अ0स0 192/20 धारा 147/148/149/302/307/394/120बी भादवि0 व 7 सीएलए एक्ट जो 08 पुलिसकर्मियों के शहीद होने से सम्बन्धित है, में वांछित 5 लाख रुपये का इनामियां अभियुक्त विकास दुबे पुत्र राम कुमार दुबे निवासी बिकरू थाना चौबेपुर कानपुर नगर को उज्जैन, मध्य प्रदेश पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये जाने के पश्चात पुलिस व एसटीएफ टीम द्वारा आज दिनांक 10.07.2020 को कानपुर नगर लाया जा रहा था। कानपुर नगर भौंती के पास पुलिस का उक्त वाहन दुर्घटना ग्रस्त होकर पलट गया, जिससे उसमें बैठे अभियुक्त व पुलिस जन घायल हो गये। इसी दौरान अभियुक्त विकास दुबे उपरोक्त ने घायल पुलिस कर्मी की पिस्टल छीन कर भागने की कोशिश की। पुलिस टीम द्वारा पीछा कर उसे घेर कर आत्मसमर्पण करने हेतु कहा गया किन्तु वह नहीं माना और पुलिस टीम पर जान से मारने की नीयत से फायर करने लगा पुलिस द्वारा आत्मरक्षार्थ जवाबी फायरिंग की गयी।उपरोक्त विकास दुबे घायल हो गया, जिसे तत्काल ही ईलाज हेतु अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान अभियुक्त विकास दुबे की मृत्यु हो गयी है।

मीडिया सेल
कानपुर नगर पुलिस

This post was last modified on July 10, 2020 9:40 am

Share
%%footer%%