Wednesday, October 4, 2023

मध्यप्रदेश में मुस्लिम होने के गुनाह में जला दिया मकान व ऑटो

भाजपा शासित राज्यों में मुसलमान होना ही गुनाह है। शिवराज सिंह चौहान शासित मध्यप्रदेश मुस्लिम समुदाय के लोगों के लिये यातनागृह बना हुआ है। मुस्लिमों के उत्पीड़न की घटनाओं में सरकार और प्रशासन हमेशा अपराधियों के साथ खड़ा नज़र आया है। और राज्य का गृहमंत्री खुद ऐसे मामलों में आरोपियों की पैरवी करता आ रहा है। 

ताजा मामला मध्यप्रदेश के खंडवा का है। जहां मुसलमान होने के कारण शौक़त अली को बंटी उपाध्याय और उसके साथियों ने बेरहमी से पीटा, शौकत का घर और सलीम बेग़ का ऑटो जला दिया, घर में रखा क़ुरआन तक जल गया। उन्हें मोहल्ला छोड़ पलायन करने को मजबूर किया।  परिवार का घर सिर्फ़ इसलिए जलाया गया है कि वह मुसलमान हैं। वहीं उसके ऊपर गांव से पलायन करने का भी दबाव बनाया जा रहा है। वहीं पुलिस का कहना है कि आरोपी आदतन अपराधी है। मुक़दमा दर्ज़ के उसकी तलाश की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक खंडवा के कोड़िया हनुमान मंदिर के पास रहने वाले एक मुस्लिम परिवार के साथ मारपीट की गई। आरोप है कि उनसे कहा गया कि अब यहां मुसलमानों को नहीं रहने दिया जाएगा। इसके बाद मुस्लिम परिवार के घर और ऑटो में आग लगा दी। पीड़ित मुस्लिम परिवार का कहना है कि वह बरसों से यहां रह रहे हैं लेकिन क्षेत्र के ही दीपक उर्फ बंटी उपाध्याय, बंटी मामा और चार अन्य लोगों ने पहले एक बुजुर्ग व्यक्ति के साथ मारपीट की।

पीड़ित परिवार के मुताबिक इस मारपीट के बाद घायल बुजुर्ग को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। इसके बाद परिवार भी दो दिन के लिए अन्य जगह पर रहने को मजबूर हो गया। जब वह वापस अपने घर लौटे तो आरोपियों ने सलीम बेग का ऑटो जला दिया और शौकत अली के घर में घुसकर आग लगा दी। पीड़ित परिवार का कहना है कि आरोपी उन्हें कहते हैं कि इस मोहल्ले में कोई मुस्लिम नहीं होना चाहिए। हमने इसकी शिकायत पुलिस से की है। 

वहीं कोतवाली टीआई बलजीत सिंह बिसेन ने मीडिया को बताया है कि आरोपी हनुमान मंदिर के पास रहने वाला दीपक उर्फ बंटी उपाध्याय है। वह कुख्यात अपराधी है। उसने सलीम बेग का ऑटो जला दिया और शौकत अली के घर में घुसकर आग लगा दी। कोतवाली टीआई बलजीतसिंह बिसेन के अनुसार, दीपक उर्फ बंटी उपाध्याय पर 25 से ज्यादा केस दर्ज हैं। इस पर जिलाबदर की कार्रवाई भी हो चुकी है। अब नए मामले दर्ज कर बड़े स्तर पर एक्शन लिया जाएगा। फिलहाल आरोपी फरार है।

(सुशील मानव जनचौक के विशेष संवाददाता हैं।)

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of

guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles

असम में बाल विवाह के खिलाफ कार्रवाई का मकसद मुसलमानों को सबक सिखाना है

गुवाहाटी। भाजपा-आरएसएस पूरे देश में मुस्लिम विद्वेष और सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के जिस एजेंडे पर...