मेरे सुरक्षा दस्ते में शामिल कुकी-मैतेई सुरक्षाकर्मियों को एक दूसरे के क्षेत्र में जाने पर गोली मारने की दी गई थी धमकी: राहुल गांधी

Estimated read time 1 min read

नई दिल्ली। लोकसभा में मोदी सरकार के विरोध में अविश्वास प्रस्ताव पर बुधवार को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने अपने भाषण में कहा था कि “मणिपुर में भारत माता की हत्या हुई..हिंदुस्तान की हत्या हुई..मणिपुर दो भागों में विभाजित हो गया..और हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौन हैं..।”सत्तारूढ़ भाजपा ने राहुल गांधी के ‘भारत माता की हत्या’ वाले वक्तव्य पर उनकी आलोचना की।

दूसरे दिन विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव का जवाब देते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने 2 घंटे 13 मिनट का भाषण दिया। लेकिन उस भाषण में मणिपुर पर सिर्फ 2 मिनट बोले। मणिपुर की हिंसा के कारणों और तीन महीने बाद भी राज्य में हिंसक घटनाओं के न रुकने पर पीएम मोदी ने कुछ नहीं कहा।

मणिपुर के मुद्दे पर अविश्वास प्रस्ताव गिरने के बाद आज (शुक्रवार) को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि “पीएम मोदी ने अपने 2 घंटे 13 मिनट के भाषण में मणिपुर पर सिर्फ 2 मिनट बात की। इन 2 मिनट में भी पीएम हंसकर मणिपुर का मजाक उड़ा रहे थे। मणिपुर का मजाक उड़ाना ठीक नहीं है।”

प्रेस कांफ्रेंस में राहुल गांधी ने ये भी बताया कि उन्होंने भारत माता की हत्या वाला बयान क्यों दिया था? प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि भारतीय सेना 2 दिनों में इस पूरी हिंसा को नियंत्रित कर सकती है। लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी आग बुझाना नहीं चाहते हैं। वे तो खुद मणिपुर को जलाना चाहते हैं।

राहुल गांधी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि कल प्रधानमंत्री जी ने पार्लियामेंट में दो घंटे, शायद 2 घंटे 13 मिनट भाषण दिया। उसमें अंत में दो मिनट उन्होंने मणिपुर की बात की। मणिपुर में महीनों से आग लगी हुई है, लोग मारे जा रहे हैं, बलात्कार हो रहा है, बच्चों को मारा जा रहा है।

राहुल ने कहा कि आपने देखा होगा कल प्रधानमंत्री हंस-हंस कर बोल रहे थे, मुस्कुरा रहे थे, जोक्स क्रैक कर रहे थे, हंस रहे थे। ये उनको शोभा नहीं देता है। हिंदुस्तान का प्रधानमंत्री, अगर इस देश में हिंसा हो रही है, दर्द हो रहा है, हिंदुस्तान के प्रधानमंत्री को दो घंटे मजाक नहीं उड़ाना चाहिए। विषय कांग्रेस नहीं था, विषय मैं नहीं था, विषय मणिपुर है। मणिपुर में क्या हो रहा है और उसको एकदम क्यों नहीं रोका जा रहा है ये विषय है।

राहुल ने कहा, मैं आपको अपना अनुभव बताता हूं, जो मैंने शायद अभी तक बोला नहीं, शायद पहले बोल देना था। मैं तकरीबन उन्नीस साल से राजनीति में हूं और मैं कई राज्यों में गया हूं। जहां बाढ़ आए, तूफान आए, सुनामी आई थी, हिंसा होती है हम जाते हैं। उन्नीस साल के अनुभव में जो मैंने मणिपुर में देखा और सुना वो मैंने पहले कभी नहीं सुना था।

राहुल ने कहा कि “मणिपुर के कुकी क्षेत्र में जब मैं गया तो मुझसे साफ कहा गया था कि आपकी सुरक्षा में कोई मैतेई नहीं होना चाहिए, वरना हम उसे मार देंगे। वैसे ही जब मैं मैतेई क्षेत्र में गया तो मुझसे कहा गया कि आपके साथ कोई कुकी नहीं होना चाहिए, वरना मैतेई लोग उसे मार देंगे। राहुल ने कहा कि मणिपुर एक स्टेट नहीं, बल्कि दो स्टेट हैं। मणिपुर की हत्या कर दी गई है, उसे चीर दिया गया है। इसलिए मैंने बोला कि हिंदुस्तान की हत्या कर दी गई है।”

मैंने संसद में बोला कि प्रधानमंत्री जी ने, अमित शाह जी ने भारत माता की हत्या की है, मणिपुर में भारत को खत्म कर दिया गया है। मैंने ऐसे ही नहीं बोला था। ये खोखले शब्द नहीं हैं। मैं आपको समझाता हूं मैंने ये बात बोली क्यूं? जब हम मणिपुर पहुंचे, हम लैंड किए, हमें मणिपुर में दौरा करना था। जब हम मैतेई एरिया में गए हमें साफ कहा गया था कि अगर आपकी सुरक्षा में कोई भी कुकी होगा उसको आप यहां मत लाइये क्योंकि उसको हम मार देंगे। और जब हम कुकी के एरिया में गए हमें कहा गया कि अगर कोई मैतेई आपकी सुरक्षा दस्ते में होगा उसको आप मत लाइये, उसको हम गोली मार देंगे। हम जब गए हमें मैतेई को परे करना पड़ा, हमें कुकियों को परे करना पड़ा। मतलब एक स्टेट नहीं है। आज दो स्टेट हैं। स्टेट की हत्या कर दी गई है और उसको चीर दिया गया है। इसलिए मैंने बोला बीजेपी ने मणिपुर में हिंदुस्तान की हत्या कर दी है।

और जब मैंने कल प्रधानमंत्री को देखा हंसते हुए, मजाक उड़ाते हुए, मैं समझ नहीं पा रहा था कि हिंदुस्तान का प्रधानमंत्री इस प्रकार से कैसे बोल सकता है। प्रधानमंत्री को ये पता नहीं लग रहा है कि हमारे देश में क्या हो रहा है। छोड़िये, नहीं जाना चाहते हैं उसका भी कारण है शायद मैं बता नहीं सकता हूं आपको। उसका कारण है, मगर जा नहीं सकते हैं। तो मणिपुर के बारे में बोलें तो। मणिपुर में जो हो रहा है हिंदुस्तान की सेना उसको दो दिन में रोक सकती है। तीन दिन नहीं लगेंगे, अगर हिंदुस्तान की आर्मी को कहा गया कि ये तमाशा बंद करो, दो दिन में ये तमाशा, ड्रामा बंद हो जाएगा।

You May Also Like

More From Author

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments