सोनिया गांधी ने लिखा बाइडेन और कमला को पत्र, कहा- उम्मीद है अपने राष्ट्र के जख्मों को भरने में आप दोनों कामयाब होंगे

(कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन और उप राष्ट्रपति कमला हैरिस को पत्र लिखकर उनकी जीत की बधाई दी है। कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा लिखा गया यह पत्र नीचे दिया जा रहा है।-संपादक)

प्रिय श्री बाइडेन,

संयुक्त राज्य अमेरिका के 46 वें राष्ट्रपति के रूप में आपके निर्वाचन के लिए मैं और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस आपको हार्दिक अभिनन्दन प्रेषित करते हैं। सीनेटर कमला हैरिस को नई उपराष्ट्रपति चुने जाने के लिए भी हमारी हार्दिक बधाई है।

दुनिया भर के लाखों-करोड़ों लोगों की तरह भारत के लोगों ने विगत 12 महीनों में अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव में अपनी गहरी रुचि दिखाई है। विघटनकारी तत्वों, वैश्विक सहयोग, सामूहिक और सतत विकास और नस्लीय तथा लैंगिक समानता को रेखांकित करते आपके संबोधनों को हमने एक नई आशा के साथ सुना है। आपकी उपरोक्त समस्त चिन्ताओं में हम भारत के लोग भी साझेदार हैं और मुझे पूर्ण विश्वास है कि विगत अनेक दशकों की तरह ही हम दोनों देशों के नागरिकों की समवेत समस्याओं का निराकरण करने में एक-दूसरे के सहयोगी सिद्ध होंगे।

वाणिज्य, व्यापार, शिक्षा, तकनीक और रक्षा जैसे आधारभूत मुद्दों पर संयुक्त राज्य अमेरिका और भारत का सहयोग अधिक सुदृढ़ होगा। साथ ही यह आशा भी है कि आपके परिपक्व और विवेकपूर्ण नेतृत्व में दोनों देशों की परस्पर साझेदारी और मजबूत होगी तथा दोनों देशों के साथ-साथ पूरी दुनिया में विकास और सहयोग का एक नया अध्याय लिखा जाएगा।

आपके और नवनिर्वाचित उपराष्ट्रपति के प्रति सादर शुभकामनाएँ।

                सोनिया गांधी

कमला हैरिस को लिखा गया सोनिया गांधी का पूरा पत्र:

प्रिय सीनेटर हैरिस, 

आपको मेरी हार्दिक बधाई! आपकी जीत अमेरिकी संविधान में विन्यस्त लोकतंत्र, सामाजिक न्याय, नस्लीय और लैंगिक समानताओं की जीत है। यह अश्वेत अमरीकियों और भारतीय अमरीकियों के साथ-साथ मानवीयता, करुणा और उस सामूहिक भावना की भी जीत है जिसका प्रतिनिधित्व अपने-अपने व्यक्तिगत और सार्वजनिक जीवन में सदैव किया है। 

मैं हृदयतल से अपने मूल्यों और विचारों की रक्षा के लिए आपके अपराजेय साहस की प्रशंसा करती हूं जिन आधारभूत विशेषताओं को आपने अपनी असाधारण मां से विरासत में पाया है। नवनिर्वाचित उपराष्ट्रपति के रूप में आपसे अपेक्षा है कि आप भावनात्मक रूप से एक विभाजित राष्ट्र के ज़ख्मों को भरने में न केवल सफल होंगी बल्कि भारत के साथ आपके मैत्रीपूर्ण सम्बन्धों का यही आधार होगा। 

आप विश्व में लोकतंत्र और मानवाधिकार के विस्तार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगी, ऐसी प्रत्याशा है। हम भारत में आपके आगमन की उत्कट आशा करते हैं। यहाँ एक लोकप्रिय लोकतंत्र के नेता के साथ-साथ इस भूमि की योग्य सुपुत्री के रूप में भी आपका स्वागत है।

भारतीय कांग्रेस पार्टी विश्व के इन दो महान लोकतंत्रों के बीच के संबंधों को और दृढ़ बनाने के प्रति अपनी वचनबद्धता का विश्वास आपको दिलाता है।

मेरी अशेष शुभकामनाओं के साथ सादर।

                                                            सोनिया गांधी।

(अनुवाद पत्रकार नित्यानंद गायेन ने किया है।)

This post was last modified on November 8, 2020 4:06 pm

Share
%%footer%%