राज्य

ब्लॉक प्रमुख चुनाव नामांकन के दौरान उत्तर प्रदेश के दर्जनों जिलों में भाजपा नेताओं की गुंडागर्दी

लखनऊ। जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव में शाम दाम दंड का इस्तेमाल करके 75 में से 65+2 सीटें जीतने वाली सत्ताधारी भाजपा ने ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान जबर्दस्त हिंसा की है। कन्नौज में पत्रकार को पीटा गया। सीतापुर में गोली चली तो कानपुर से ब्लॉक से प्रत्याशी अगवा हो जा रहे हैं।गोरखपुर में प्रत्याशी पर हमला हुआ। अयोध्या, बस्ती व बुलन्दशहर में पक्ष-विपक्ष में मारपीट, उन्नाव में झड़प।

उत्तर प्रदेश का शायद ही कोई जिला बचा हो जहां लोकतांत्रिक ढंग से चुनाव हो रहा हो। कन्नौज में कवरेज को गए पत्रकारों पर ही प्रत्याशियों के समर्थकों ने हमला कर दिया। पत्रकारों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया। अंबेडकर नगर में पूर्व मंत्री लालजी वर्मा के हाथों से नामांकन का पर्चा ही बवालियों ने छीन लिया। 

गुरुवार सुबह से अब तक 16 जिलों में फॉयरिंग और मारपीट की ख़बर है। कन्रौज, सीतापुर, बुलंदशहर, पीलीभीत, झांसी, उन्नाव, अयोध्या, बस्ती, गोरखपुर, सम्भल, चित्रकूट, जालौन, फतेहपुर, एटा, अंबेडकरनगर, महराजगंज में खुलेआम फायरिंग व मारपीट हुई।

कन्नौज में सदर ब्लॉक में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान पुलिस की मौजूदगी में नामांकन करने आये सपा प्रत्याशी अजय दोहरे और उसके प्रस्तावक के साथ मारपीट किया गया। ARO की टेबल पर रखे सभी पर्चे फाड़कर फेंक दिया गया। सपा प्रत्याशी ने मारपीट और पर्चे फाड़ने का आरोप भाजपाइयों पर लगाया है।

कन्नौज में हिंसा की घटना को कवर कर रहे एबीपी गंगा संवाददाता नित्य मिश्र को पुलिस की मौजूदगी में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बंधक बना कर पीटा। इस दौरान यूपी पुलिस मूकदर्शक बनी रही।

राज्य के सीतापुर जिले के कमलापुर थाना क्षेत्र के कसमंडा ब्लॉक में नामांकन के दौरान दो गुटों में हुयी कहासुनी देखते ही देखते फायरिंग में बदल गयी।कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे पर गोलियां चला दीं। ब्लॉक के गेट पर ही भाजपा और निर्दलीय प्रत्याशी के बीच विवाद हो गया। गोली लगने से एक युवक गंभीर रूप से घायल हुआ है। लगातार गोलियां चलती रहीं, पुलिस तमाशबीन बनी रही।

पीलीभीत में भाजपा द्वारा ब्लॉक प्रमुख अमरिया पद के लिए सर्वजीत सिंह को अधिकृत प्रत्याशी बनाया गया है। वहीं टिकट कटने के बाद पूर्व ब्लॉक प्रमुख निशान सिंह अमरिया ब्लॉक में अपने समर्थकों के साथ नामांकन कराने पहुंचे थे। इस दौरान भाजपा से टिकट पाने वाले सर्वजीत सिंह ने बीच रोड पर अपनी गाड़ियां लगाकर प्रत्याशियों को नामांकन करने से रोका। प्रत्याशी श्याम सिंह की मानें तो उनकी गाड़ी पर हमला भी किया गया। बमुश्किल जान बचाकर ब्लॉक परिसर में नामांकन कराने पहुंचे।

फतेहपुर जिला के तेलियानी ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान सपा और भाजपा प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़ गए। दोनों तरफ से जमकर लाठी-डंडे चले। समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी ने भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं पर गाड़ियों में तोड़फोड़ और मारपीट का आरोप लगाया है। मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात हो गई है।

झांसी के बड़ागांव ब्लॉक में ब्लॉक प्रमुख के लिए नामांकन के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने नारे लगाते हुए हाथों में डंडे लेकर लोगों का रास्ता रोका। स्थिति को तनावपूर्ण देखते हुए मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया। समाजवादी पार्टी के पूर्व सांसद चंद्रपाल सिंह यादव ने आरोप लगाया कि सत्ता पक्ष के लोग सपा को नामांकन नहीं करने दे रहे हैं और रास्ता रोके खड़े हैं। पुलिस उनका सहयोग कर रही है। ब्लॉक प्रमुख के प्रत्याशी के रूप में भाजपा से रचना राजपूत और समाजवादी पार्टी से रेखा कैलाश यादव हैं।

एटा जिला के मारहरा ब्लॉक में नामांकन के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं ने सपा प्रत्याशी गुड्‌डो देवी का नामांकन पर्चा छीन लिया। उन्हें नामांकन करने से रोक दिया। इस पर दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई। दोनों पक्षों से कई लोग घायल बताए जा रहे हैं। बीच-बचाव करने आए कई पुलिसकर्मी और कवरेज करने गए पत्रकार भी घायल हुए हैं।

वहीं बस्ती जिला के बनकटी ब्लाक की आरक्षित सीट पर दो भाजपा प्रत्याशियों के समर्थक आपस में भिड़ गए। एक-दूसरे पर लाठी और डंडों से हमला कर दिया। दोनों ही भाजपा से जुड़े हुये हैं। नामांकन से ठीक पहले दोनों प्रत्याशियों के समर्थकों ने पहले गाली-गलौज की फिर आपस में मारपीट शुरू कर दी। फिलहाल मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।

जालौन जिला के माधौगढ़ ब्लॉक में नामांकन के दौरान भाजपा नेताओं ने समाजवादी पार्टी के नेताओं को नामांकन नहीं करने दिया। जनता दल बीपी के प्रत्याशी ने आरोप लगाया कि उन्हें अगवा करने की कोशिश की गई। इस दौरान भाजपा नेता और पूर्व ब्लाक प्रमुख सुदामा दीक्षित की पुलिस से तीखी बहस हुई। मौके पर एसपी राकेश कुमार सिंह भारी पुलिस फोर्स के साथ तैनात हैं।

अयोध्या के मया ब्लॉक के नामांकन में सपा व भाजपा कार्यकर्ताओं में जबरदस्त मारपीट हुई। सपा प्रत्याशी धर्मवीर वर्मा के प्रस्तावक राजेश कुमार को भाजपा कार्यकर्ताओं ने जमकर पीटा, जिसमें वे घायल हो गए। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

आरोप है कि मया ब्लॉक मुख्यालय पर अराजकता का माहौल है। एएसपी पलाश बंसल व ASDM सदर ज्योति सिंह ने पहुचकर सपाइयों को आश्वासन दिया कि सपा समर्थित प्रत्याशी धर्मवीर वर्मा को सुरक्षा मिलेगी। कहा कि धर्मवीर तहरीर देंगे तो मुक़दमा भी दर्ज़ होगा।

This post was last modified on July 8, 2021 8:08 pm

Share
Published by
%%footer%%