Subscribe for notification
Categories: राज्य

वायरल वीडियो में बोल रहा पूर्व मंत्री, ‘मैंने व्यापमं का पूरा जहर पी लिया’

व्यापमं घोटाला याद है आपको?….. 2011 में हुआ व्यापमं घोटाला मध्य प्रदेश में हुआ सबसे बड़ा घोटाला माना जाता है। इस घोटाले में बीजेपी के यूं तो बहुत से नेता शामिल थे, लेकिन बलि ली गई केवल लक्ष्मीकांत शर्मा की। व्यापमं घोटाले में मध्य प्रदेश में बीजेपी सरकार में मंत्री रहे लक्ष्मीकांत शर्मा को सात मामलों में आरोपी बनाया गया था और उन्हें एसटीएफ ने 16 जून, 2014 को गिरफ्तार किया था। तभी से वह भोपाल की केंद्रीय जेल में बंद थे। इस दौरान उन्हें बीजेपी ने सदस्यता से भी निष्कासित कर दिया था।

2018 में सीबीआई ने मध्य प्रदेश के पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा, उनके ओएसडी और 93 अन्य लोगों के खिलाफ आरोप-पत्र दायर किया, लेकिन आश्चर्यजनक रूप से जनवरी 2019 में सीबीआई ने बीजेपी के बड़े नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा को क्लीन चिट दे दी। सीबीआई ने कोर्ट में पेश अपनी क्लोजर रिपोर्ट में लिखा कि परिवहन मामले में पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं हैं। नतीजा यह हुआ कि पहले उन्हें जिला न्यायालय भोपाल से जमानत मिल गई, बाद में जबलपुर हाईकोर्ट से भी उन्हें जमानत मिल गई।

जमानत पर छूट कर आए तो तथाकथित रूप से उन्होंने यह गुल खिलाए। दरअसल अब मध्य प्रदेश के एक और बहुचर्चित हनी ट्रैप स्केंडल में उनका वीडियो सामने आया है। हालांकि इस वीडियो की कोई पुष्टि नहीं कर रहा है, लेकिन सेम टू सेम लक्ष्मीकांत शर्मा जैसा दिखने वाला यह शख्स हनी ट्रैप की मुख्य नायिका से अंतरंगता स्थापित करते दिख रहा है। इस वीडियो में वह जो कह रहा है यह जानना बहुत दिलचस्प है।

वीडियो में वो कहते हैं, ‘मैंने व्यापमं का पूरा जहर पी लिया है। मैं चाहता तो एक मिनट में इनकी कुर्सी चली जाती, लेकिन संगठन हमारी मां है, इसलिए मैंने जहर का पूरा घूंट पी लिया।’ आगे वह कहते हैं, ‘शिवराज बहुत बदमाश है यार श्वेता। शिवराज की पत्नी भयंकर करप्ट है। मैं एक-एक की जन्मपत्री जानता हूं।’ वह कहते हैं, ‘राजनीति में आदमी पहले अपना दामन बचाता है। ये शिवराज सिंह बहुत बड़े मतलबी हैं। राजनीति को तो वेश्या का रूप माना जाता है। जब तक संबंध है, तब तक हैं। राजनीति में सब भ्रष्ट हैं। आरएसएस वालों को भी महिलाएं नहीं मिलतीं तो लड़कों से ही संबंध बना लेते हैं।’

(गिरीश मालवीय स्वतंत्र टिप्पणीकार हैं और आजकल इंदौर में रहते हैं।)

This post was last modified on November 19, 2019 4:21 pm

Leave a Comment
Disqus Comments Loading...
Share

Recent Posts

नौजवानों के बाद अब किसानों की बारी, 25 सितंबर को भारत बंद का आह्वान

नई दिल्ली। नौजवानों के बेरोजगार दिवस की सफलता से अब किसानों के भी हौसले बुलंद…

45 mins ago

योगी ने गाजियाबाद में दलित छात्रावास को डिटेंशन सेंटर में तब्दील करने के फैसले को वापस लिया

नई दिल्ली। यूपी के गाजियाबाद में डिटेंशन सेंटर बनाए जाने के फैसले से योगी सरकार…

3 hours ago

फेसबुक का हिटलर प्रेम!

जुकरबर्ग के फ़ासिज़्म से प्रेम का राज़ क्या है? हिटलर के प्रतिरोध की ऐतिहासिक तस्वीर…

5 hours ago

विनिवेश: शौरी तो महज मुखौटा थे, मलाई ‘दामाद’ और दूसरों ने खायी

एनडीए प्रथम सरकार के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने आरएसएस की निजीकरण की नीति के…

7 hours ago

वाजपेयी काल के विनिवेश का घड़ा फूटा, शौरी समेत 5 लोगों पर केस दर्ज़

अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में अलग बने विनिवेश (डिसइन्वेस्टमेंट) मंत्रालय ने कई बड़ी सरकारी…

8 hours ago

बुर्के में पकड़े गए पुजारी का इंटरव्यू दिखाने पर यूट्यूब चैनल ‘देश लाइव’ को पुलिस का नोटिस

अहमदाबाद। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच की साइबर क्राइम सेल के पुलिस इंस्पेक्टर राजेश पोरवाल ने यूट्यूब…

8 hours ago