Saturday, December 4, 2021

Add News

फसल बर्बाद कर रहे पशुओं को ग्रामीण 26 जनवरी को योगी आदित्यनाथ के घर बांधेंगेः सोशलिस्ट किसान सभा

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

सोशलिस्ट किसान सभा खेतों की फसल बर्बाद कर रहे छुट्टा पशुओं को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के घर छोड़कर आएंगे। सोशलिस्ट किसान सभा ने कहा है कि योगी आदित्यनाथ गायों को गुड़ खिलाते हुए अपना विज्ञापन छपवाते हैं। उन्हें गाय से बहुत प्रेम है। दूसरी तरफ जब से उनकी सरकार आई है, गांवों में लोग खुले घूम रहे पशुओं से परेशान हैं। ये पशु फसलों को चर जाते हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से जो गौशालाएं खुलवाई गई हैं, उनमें पशुओं को ठीक से रखने की व्यवस्था नहीं है। वहां से भी पशु छूट कर खुले घूमने लगते हैं। सरकार के पास गायों को गांवों से गौशाला तक ले जाने का भी कोई इंतजाम नहीं, लेकिन अगर कोई गायों को गौशाला ले जाना चाहे तो हिन्दुत्ववादी गौ रक्षक तांडव करते हैं। भारतीय जनता पार्टी के राज में गौ रक्षक का मतलब है जो गाय पालते नहीं बल्कि गाय के नाम पर लोगों के साथ मार-पीट करते हैं।

सोशलिस्ट किसान सभा के प्रदेश अध्यक्ष अनिल मिश्र ने कहा कि 27 दिसंबर, 2020, को हरदोई जिले के लालामऊ मवई गांव के दलित निवासी जब पशु चिकित्सा अधिकारी के कहने पर, पुलिस को सूचित कर, पंद्रह किलोमीटर दूर पैदल चलकर पशुओं को पवांया भगवंतापुर गांव ले गए और वहां स्थानीय ग्रामीणों के गौशाला में इन पशुओं को रखने से इंकार करने पर पशुओं के साथ वापस लौट रहे थे तो लोहंगापुर में अपने आप को भाजपा के पदाधिकारी बताने वाले ज्ञानेंद्र सिंह ने दलितों के साथ मारपीट की। अब पुलिस मुकदमा दर्ज करने को तैयार नहीं।

उन्होंने कहा कि अतः सोशलिस्ट किसान सभा के तत्वावधान में जिस दिन राष्ट्रीय स्तर पर चल रहे किसान आंदोलन के आह्वान पर तीन किसान विरोधी कानूनों को रद्द करवाने के लिए किसान दिल्ली में अपने ट्रैक्टरों के साथ प्रवेश करेंगे, उत्तर प्रदेश के ग्रामीण खुले घूम रहे पशुओं से परेशान हैं, इन पशुओं को लेकर 25 जनवरी, 2021 को उन्नाव जिले के फतेहपुर चैरासी विकास खण्ड से निकलेंगे और 26 जनवरी 2021 को मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के निवास पहुंचेंगे ताकि वे इनके खिलाने-पिलाने की व्यवस्था करें।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

प्रदूषण के असली गुनहगारों की जगह किसान ही खलनायक क्यों और कब तक ?

इस देश में वर्तमान समय की राजनैतिक व्यवस्था में किसान और मजदूर तथा आम जनता का एक विशाल वर्ग...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -