Monday, December 6, 2021

Add News

अखंड भारत

धर्मों के आधार पर अगर राष्ट्र बनते तो यूरोप ईसाई और अरब मुस्लिम राष्ट्र होते!

भारत का विभाजन दक्षिण एशिया के लिए एक बड़ी त्रासदी था। विभाजन के पीछे मुख्यतः तीन कारक थे– पहला, ब्रिटिश सरकार की फूट डालो और राज करो की नीति, दूसरा, हिन्दू साम्प्रदायिकता, जो भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाना चाहती...

नेहरू की बनाई नींव पर खड़ी हुई भारतीय लोकतंत्र की बुलंद इमारत

एक बार नेहरू से किसी ने पूछा कि भारत के लिए उनकी विरासत क्या होगी, तो उन्होंने उत्तर दिया, “यकीनन स्वयं पर शासन करने में सक्षम चालीस करोड़ लोग।” ये लोकतंत्र पर नेहरू का दृढ़विश्वास ही था। महत्वपूर्ण मुद्दों...
- Advertisement -spot_img

Latest News

5 राज्यों में ओमिक्रॉन के 22 मरीज; विदेश से लौटे 475 लोग लापता, जनवरी में आ सकती है तीसरी लहर

रविवार को देश में ओमिक्रॉन के एक साथ 18 केस मिले हैं। इसके साथ ही देश में इस वैरिएंट...
- Advertisement -spot_img