Wednesday, December 1, 2021

Add News

किसान संगठन

तीन घंटे के चक्का जाम में ठहर सा गया देश, किसानों के समर्थन में उतरे बड़ी संख्या में लोग

किसान संगठनों के आह्वान पर तीन घंटे के चक्का जाम का देश भर में व्यापक असर नजर आया। विभिन्न प्रदेशों में बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर निकले और दोपहर 12 बजे से तीन बजे तक सड़क जाम कर...

क्या सुप्रीम कोर्ट आरएसएस के किसान संगठनों से समझौता करके कृषकों पर मोदी के अन्याय को लाद देने की फ़िराक़ में है?

जिस सुप्रीम कोर्ट ने असंवैधानिक नोटबंदी पर चुप्पी साधे रखी, जीएसटी के आधे-अधूरेपन पर कुछ भी कहने से गुरेज़ किया, खुद से राम मंदिर के मसले पर संविधान की मूलभूत भावना के विरुद्ध राय दी और धारा 370 को...

250 से ज्यादा किसान संगठनों का कल दिल्ली कूच, सरकार ने की जगह-जगह नाकाबंदी

नई दिल्ली। अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति और एआईकेएससीसी के राष्ट्रीय वर्किंग ग्रुप के साथ ही राज्य स्तरीय संयोजकों ने एलान किया है कि 26 और 27 नवंबर 2020 से ‘दिल्ली चलो’ कार्यक्रम की तैयारी पूरे जोर-शोर के...

वाम दलों ने भी दिखाई किसानों के साथ एकजुटता, जंतर-मंतर से लेकर बिहार की सड़कों पर हुए प्रदर्शन

मोदी सरकार के किसान विरोधी कानून और उसे राज्यसभा में अनैतिक तरीके से पास कराने के खिलाफ बुलाए गए भारत बंद का पूरे देश में असर रहा। दिल्ली के जंतर मंतर पर वामदलों ने विशाल प्रदर्शन किया। इसके अलावा...

कृषि विधेयक: अपने ही खेत में बंधुआ मजदूर बन जाएंगे किसान!

सरकार बनने के बाद जिस तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हठधर्मिता दिखाते हुए मनमाने फैसले लिए, उससे न केवल उद्योग धंधे चौपट हो गए हैं बल्कि छोटे-मोटे कारोबारी भी सड़क पर आ गए हैं। किसान-मजदूर और युवा बदहाली...

तीन अध्यादेशों से किसानों को कार्पोरेट को गिरवी रखने की तैयारी, नौ अगस्त को 25 संगठन होंगे सड़कों पर

एआईकेएससीसी के वर्किंग ग्रुप के सदस्य और जय किसान आंदोलन के संस्थापक योगेन्द्र यादव ने कहा है कि केंद्र सरकार कोरोना काल में तीन किसान विरोधी अध्यादेश लाई है। इनका असली नाम जमाखोरी चालू करो कानून, मंडी खत्म करो...
- Advertisement -spot_img

Latest News

भाजपा ने देश की सबसे बड़ी परिवार आधारित पार्टी

कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि परिवार आधारित राजनीतिक दल लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा...
- Advertisement -spot_img