32.1 C
Delhi
Tuesday, September 28, 2021

Add News

afghanistan

तेल की राजनीति, तालिबान और इस्लामोफोबिया का भारत पर प्रभाव

अफगानिस्तान से अमरीकी सेना की वापसी के नतीजे में वहां तालिबान सत्ता में आ गए हैं। अफगानिस्तान का घटनाक्रम चिंता पैदा करने वाला है। वहां के अल्पसंख्यकों और मुसलमानों ने देश से किसी भी तरह भाग निकलने के जिस...

पकड़ी गयी 21 हजार करोड़ हेरोइन की इनसाइड स्टोरी

यह घटनाक्रम शुरू होता है 15 सितंबर को। गुजरात के तट के पास से एक ईरानी नौका समुन्दर में देखी जाती है ‘‘जुम्मा’’ नामक नौका इस बड़ी नाव में सात लोग ड्रग्स की तस्करी करते हुए गुजरात राज्य ATS...

अडानी के मुंद्रा पोर्ट से तीन हजार किलो हेरोइन जब्त, कीमत 9000 से 21 हजार करोड़

गुजरात के कच्छ के मुंद्रा पोर्ट पर हेरोइन की सबसे बड़ी खेप पकड़ी गई है, जिसकी कीमत करीब 9000 करोड़ रुपये बताई जा रही है। हिंदुस्तान टाइम्स तो गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर जब्त 3000 किलो ड्रग्स की कीमत 21 हजार करोड़...

मोदी भारत को अमेरिका का प्यादा बनाने को बेताब!

अमेरिका भारत में अपना सैनिक हवाई अड्डा स्थापित करेगा। इस सिलसिले में मोदी और बाइडेन सरकार के बीच जारी वार्ता की प्रक्रिया अपने आखिरी दौर में है। इसका खुलासा खुद अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने किया है। वह...

तालिबान आरएसएस के कितना करीब और कितना अलग?

अफगानिस्तान में तालिबान की सत्ता में वापसी ने उनके पिछले शासनकाल की यादें ताजा कर दी हैं। उस दौरान तालिबान ने शरिया का अपना संस्करण लागू किया था और महिलाओं का भयावह दमन किया था। उन्होंने पुरुषों को भी...

राजा महेंद्र प्रताप ने अफगानिस्तान में बनायी थी निर्वासित सरकार

मथुरा से जब आप हाथरस की ओर चलेंगे तो हाथरस जिले में प्रवेश करते ही एक कस्बा पड़ेगा मुरसान। मुरसान एक छोटा सा कस्बा है। वहां के राजा थे राजा महेंद्र प्रताप सिंह। राजा महेंद्र प्रताप उन विलक्षण और...

नागरिक संगठनों ने लिखा राष्ट्रपति को पत्र, कहा- अफगानिस्तान पर सरकार को दें जरूरी निर्देश

(वाराणसी के विभिन्न संगठनों ने अफगानिस्तान की मौजूदा स्थितियों पर भारत के राष्ट्रपति को एक पत्र लिखा गया है। जिसमें स्थानीय नागरिकों समेत वहां रहने वाले विदेशियों के सामने आने वाली परेशानियों पर चिंता जाहिर की गयी है। पत्र...

अमेरिका का अफगानिस्तान युद्ध से पलायन बनाम उसका झूठ

काबुल एयरपोर्ट के बाहर हुए एक जबर्दस्त फियादीन बम विस्फोट में जिसमें 157 आम अफगान नागरिकों और 13 अमेरिकी सैनिकों की मौत हो गई थी, इस भयावय विस्फोट में बच गये एक अमेरिकी ने तालिबान आंतकवादियों द्वारा मार दिए...

नसीरुद्दीन शाह ने क्यों बोला – तालिबान के लिए हिन्दुस्तान में जश्न मनाने वाले ज्यादा ख़तरनाक?

नसीरुद्दीन शाह ने हिन्दुस्तान के मुसलमानों के लिए बहुत अहम बात कह दी है जिसे नज़रअंदाज करना न तो आसान रह गया है और न ही नज़रअंदाज करके उस चिंता को दबाया जा सकता है जिसने शाह को यह...

उनके तालिबान तालिबान हमारे वाले संत !

अपने 20 साल के नाजायज और सर्वनाशी कब्जे के दौरान अफ़ग़ानिस्तान से लोकतान्त्रिक संगठनों, आंदोलनों और समझदार व्यक्तियों का पूरी तरह सफाया करने के बाद अमरीकी उसे तालिबानों के लिए हमवार बनाकर, उन्हें इस खुले जेलखाने की चाबी थमाकर...
- Advertisement -spot_img

Latest News

केवल कॉर्पोरेट मामले प्राथमिकता सूची में न हों, हमें कमजोर वर्ग को भी प्राथमिकता देनी होगी: चीफ जस्टिस

चीफ़ जस्टिस एनवी रमना ने सोमवार को कहा कि उल्लेख प्रणाली(मेंशनिंग) को सुव्यवस्थित किया जा रहा है ताकि यह...
- Advertisement -spot_img

Log In

Or with username:

Forgot password?

Forgot password?

Enter your account data and we will send you a link to reset your password.

Your password reset link appears to be invalid or expired.

Log in

Privacy Policy

Add to Collection

No Collections

Here you'll find all collections you've created before.