Saturday, October 23, 2021

Add News

article

दारापुरी ने दिखाया अपूर्वानंद को आईना, कहा- खारिज करने की नहीं, लेनिन से सीखने की जरूरत

इंडियन एक्सप्रेस में इधर किसी लेख के जवाब में लेखक, अध्यापक और सामाजिक कार्यकर्ता अपूर्वानंद की टिप्पणी पर नजर पड़ी, पहले तो मुझे लगा की शायद लेखक कह रहे हैं कि लेनिन के क्रांति के मॉडल को भारत में दोहराने की...

दो सावरकर नहीं हैं ‘1857’ और ‘हिन्दुत्व’ के लेखक

(सावरकर को लेकर यह भ्रम प्रगतिशील समझे जाने वाले बुद्धिजीवियों में भी आम रहा है कि `हिन्दुत्व का सिद्धांतकार` अपने शुरुआती दौर में धर्मनिरपेक्ष था। यह भ्रम 1909 में आई सावरकर की पुस्तक ‘वार ऑफ इंडिपेंडेंस, 1857’  की बुनियाद...

हर कश्मीरी की निगाह संयुक्त राष्ट्र और 27 सितंबर पर!

श्रीनगर से लौटकर । तरह-तरह की आशंकाओं, दुश्वारियों, गम, गुस्सा और तनाव से घिरे तथा सुरक्षा बलों से अटे पड़े कश्मीर में इस समय हर शख्स की निगाहें संयुक्त राष्ट्र पर लगी हैं। सभी की जुबान पर एक ही...

नहीं रहे कौशलेंद्र प्रपन्न, आज शाम को होगा अंतिम संस्कार

नई दिल्ली। पत्रकार और लेखक कौशलेंद्र प्रपन्न का निधन हो गया है। तकरीबन एक हफ्ते तक अस्पताल के आईसीयू में जीवन और मौत के बीच संघर्ष करते हुए आज उन्होंने इस दुनिया को अलविदा कह दिया। आपको बता दें...

कॉरपोरेट की ‘कल्याणकारी संस्था’ के रवैये ने कौशलेंद्र को पहुंचाया आईसीयू

(कौशलेंद्र प्रपन्न अकादमिक दुनिया में एक पहचाना नाम है। आजकल वह टेक महिंद्रा में कार्यरत हैं और शिक्षा से जुड़े प्रश्नों पर वहां काम करते हैं। अभी हाल में इस मुद्दे को लेकर उन्होंने एक लेख लिखा। जिसमें सरकार की थोड़ी-बहुत आलोचना...
- Advertisement -spot_img

Latest News

सीबीआई की एफआईआर के खिलाफ पश्चिम बंगाल सरकार के मुकदमे की सुनवाई 16नवंबर को

उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को भारत के संविधान, 1950 के अनुच्छेद 131 के तहत पश्चिम बंगाल राज्य द्वारा दायर मुकदमे में सुनवाई...
- Advertisement -spot_img