Thursday, October 28, 2021

Add News

bodhghat

आदिवासी दिवस पर उठी बोधघाट परियोजना के विरोध की आवाज

विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर बस्तर के विभिन्न क्षेत्रों में आदिवासी समुदाय के लोगों द्वारा विभिन्न किस्म के आयोजन किए गए। इस मौके पर सभी आदिवासी जनजाति समुदाय के लोग अपनी पारंपरिक वेशभूषा, अपनी संस्कृति और अपने पारंपरिक...

“जान दे देंगे लेकिन जगह नहीं छोड़ेंगे”

नई दिल्ली/बस्तर। बस्तर इलाके के दंतेवाड़ा जिले में स्थित इंद्रावती नदी के किनारे बसे इस एरपोंड गांव का अब तक कोई नामोनिशान नहीं रहता अगर सरकार द्वारा 1986 में प्रस्तावित बोधघाट परियोजना सफल हो गयी होती। 80 घरों वाले...

हमारे बाप दादा पुश्तैनी जल, जंगल, जमीन बचाने के लिए लड़े थे! हम भी लड़ेंगे: बोध घाट परियोजना से प्रभावित एक आदिवासी

बस्तर। पिछले चार दशक से बंद पड़ी बोध घाट परियोजना का जिन्न फिर से बाहर निकल आया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा विधानसभा में राज्य के सालाना बजट में बोधघाट परियोजना को शुरू किए जाने का प्रस्ताव पेश...

बोधघाट : कॉर्पोरेट मुनाफे के लिए आदिवासी विनाश की परियोजना

40 सालों से डिब्बे में बंद बोध घाट परियोजना को कांग्रेस सरकार ने फिर से बाहर निकाला है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इसके पक्ष में मुखर हैं, इस आश्वासन के साथ कि आदिवासियों का विस्थापन से पहले पुनर्वास किया जाएगा।...
- Advertisement -spot_img

Latest News

भाई जी का राष्ट्र निर्माण में रहा सार्थक हस्तक्षेप

आज जब भारत देश गांधी के रास्ते से पूरी तरह भटकता नज़र आ रहा है ऐसे कठिन दौर में...
- Advertisement -spot_img