Saturday, October 23, 2021

Add News

crop

फसल को एमएसपी की गांरटी नहीं और सरकार ने कोविड दवा पर दी मुनाफे की खुली छूट

भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व का सारा ध्यान पश्चिम बंगाल, असम व उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनावों में लगा हुआ था। अचानक देश कोरोना वायरस के दूसरे प्रकोप का शिकार हो गया। बताते हैं कि यह पिछले साल...

योगी सरकार में दबंगई की शिकायत करना भी आफत को न्योता देना है: माले

लखनऊ। भाकपा (माले) की दो सदस्यीय टीम ने चंदौली जिले में नौगढ़ क्षेत्र के उस घटनास्थल का दौरा किया, जहां दबंगों ने जमीन पर कब्जा करने की नीयत से किसान परिवार के करीब पांच बीघे खेत में लगी गेहूं...

चंदौली: फसल जलने की शिकायत करने गए किसान को ही थानेदार ने हिरासत में लिया

चंदौली। यूपी के चंदौली जिले में अराजक तत्वों और प्रशासन के बीच गठजोड़ का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जिसमें अराजतक तत्वों ने एक किसान की पहले फसल बर्बाद की और जब किसान थाने पर उसकी शिकायत करने...

संविधान की कसौटी पर भी फेल हैं तीनों कृषि कानून

अगर आप को लगता है कि नया कृषि कानून केवल किसानों का ही अहित करेगा तो यह आप का भ्रम है। कृषि और किसानों के विषय पर नियमित अध्ययन और लेखन करने वाले पत्रकार, पी साईंनाथ ने द वायर...

सपनों के सहारे जीता-हारता किसान

तुम्हारी फाइलों में गांव का मौसम गुलाबी है,मगर यह आंकड़े झूठे हैं यह दावा किताबी है! अदम गोंडवी की इन लाइनों में प्रासंगिकता के साथ किसान की दशा का प्रतिबिंब दिखाई देता है। किसान की परिभाषा के अंतर्गत खेत में...

आसमान में उड़ते सभी फरमान, धरातल पर हैं तंग किसान

किसान बिल के माध्यम से बहुत से लोग इन दिनों किसानों के बेहतर दिनों की बात कर रहे हैं, लेकिन धरातल की जो स्थिति है, उसकी चर्चा तक नहीं कर रहे। अभी के समय में किसान अपने मक्का को...

किसानों के लिए तत्काल राहत कार्य शुरू करे सरकारः दारापुरी

लखनऊ। ओलावृष्टि, चक्रवात, तूफान और भीषण वर्षा से तबाह हुए किसानों को तत्काल राहत देने के संबंध में पूर्व आईजी और मजदूर किसान मंच के अध्यक्ष एसआर दारापुरी ने मुख्यमंत्री को ईमेल से पत्र भेजा है। पत्र में दारापुरी...

मुख्यमंत्री रघुवर दास के उद्घाटन के 12 घंटे बाद ही टूटा बांध, घर समेत किसानों की फसलें तबाह

42 वर्ष पूर्व 1977 में बिहार के तत्कालीन राज्यपाल जगरनाथ कौशल के द्वारा कोनार सिंचाई परियोजना की आधारशिला रखी गई थी। योजना की शुरुआत 11.3 करोड़ की लागत से की जानी थी। तब झारखंड का गठन नहीं हुआ था अलबत्ता अलग...
- Advertisement -spot_img

Latest News

कोविड काल के दौरान बच्चों में सीखने की प्रवृत्ति का हुआ बड़े स्तर पर ह्रास

कोविड काल में बच्चों में सीखने की प्रवृत्ति का काफी बड़ा नुकसान हुआ है। इसका खुलासा ज्ञान विज्ञान समिति...
- Advertisement -spot_img