Monday, August 15, 2022

delhi highcourt

जस्टिस मुरलीधर का विदाई समारोह उनकी न्यायप्रियता का परिचायक

जस्टिस मुरलीधर के विदाई समारोह का आयोजन दिल्ली हाईकोर्ट परिसर में आयोजित किया गया था। यह वही जज हैं जिनसे डर कर सरकार ने रातों रात उनके तबादले का नोटिफिकेशन जारी कर दिया। जबकि सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम ने...

साप्ताहिकी: उत्तर आधुनिक महाभारत के मायने, संदर्भ दिल्ली हिंसा

भारत के लोकतांत्रिक रूप से सर्वप्रथम निर्वाचित कम्युनिस्ट मुख्यमंत्री, ईएमएस नम्बूदरिपाद की लिखी एक किताब याद आती है। किताब का शीर्षक है: क्राइसिस इन टू केओस। यह शीर्षक भारत के मौजूदा उन हालात में बिल्कुल सटीक लगता है जिनमें...

न्याय में सरकार का हस्तक्षेप है जस्टिस मुरलीधर का तबादला

दिल्ली हाईकोर्ट के जज जस्टिस मुरलीधर का 26 फरवरी की देर रात तबादला नोटिफाई कर दिया गया। उनका तबादला अप्रत्याशित नहीं था, पर उनके तबादले का नोटिफिकेशन अप्रत्याशित ज़रूर है। सुप्रीम कोर्ट के कोलेजियम, जो सुप्रीम कोर्ट के ही...

दिल्ली पुलिस को फटकार लगाने वाले हाईकोर्ट जज मुरलीधर का रातों-रात तबादला

नई दिल्ली। सत्ता किस कदर दंगाइयों के पक्ष में आ गयी है उसका ताजा उदाहरण दिल्ली हिंसा मामले की सुनवाई कर रहे जज जस्टिस मुरलीधर पर उसका फैसला है। देर रात उनका पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में तबादला कर दिया गया।...

दिल्ली में जारी दंगों पर रात में लगी कोर्ट, जजों ने घर से सुनाया फैसला

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट ने आधी रात को राजधानी के नॉर्थ-ईस्ट इलाके में हो रहे दंगे पर सुनवाई की और आदेश पारित किया। मामला था दंगे में गंभीर रूप से घायल मरीजों को दंगाग्रस्त इलाके से दूसरे किसी अस्पताल...
- Advertisement -spot_img

Latest News

जश्न और जुलूसों के नाम थी आज़ादी की वह सुबह

देश की आज़ादी लाखों-लाख लोगों की कु़र्बानियों का नतीज़ा है। जिसमें लेखक, कलाकारों और संस्कृतिकर्मियों ने भी अपनी बड़ी...
- Advertisement -spot_img