Friday, July 1, 2022

Exclusive

ग्राउंड रिपोर्ट: बिहार की राजधानी पटना में जाति देखकर मिलता है फ्लैट 

आपका पूरा नाम क्या हुआ? अंकल सौरभ, सर्टिफिकेट नाम क्या हुआ? अंकल सुमन सौरभ, ओ.. पापा का नाम? देवनारायण सौरभ। सुनो सौरभ, हम लोग कायस्थ परिवार से आते हैं। इसलिए यहां माहौल बढ़िया मिलेगा। उसी ढंग से आपको भी रहना...

ग्राउंड रिपोर्ट : बनारस में सीवर से नहाई गंगा में अब रेत के टीलों ने डाला डेरा

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के बनारस में घाट किनारे गंगा की दुर्गति किसी से छिपी नहीं है। दो दर्जन से अधिक छोटे-बड़े नाले रोजाना सवा सौ से अधिक सीवर गंगा में फेंट रहे हैं। इसमें अनवरत सीवर ढोने वाली अस्सी...

स्पेशल रिपोर्ट: बेहिसाब पानी होने के बावजूद आखिर बिहार के लोग मछली के लिए आंध्रा और बंगाल पर क्यों हैं निर्भर?

सुपौल, बिहार। बिहार मत्स्य निदेशालय के आंकड़ों के मुताबिक बिहार में सालाना मछली उत्पादन करीब साढ़े पांच लाख मीट्रिक टन है, जबकि खपत 8 लाख मीट्रिक टन है। बाकी मछली के लिए बिहार को आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल...

ग्राउंड रिपोर्ट: चंदौली पुलिस पर सवालों की बौछार, कातिल इंस्पेक्टर पर 302 की मांग लेकर जनवादी संगठनों का डेरा

मनराजपुर (चंदौली)। उत्तर प्रदेश में चन्दौली जिले के मनराजपुर में पुलिसिया दबिश के दौरान हुई बेकसूर निशा यादव की मौत से जनपद अब भी सुलग रहा है। एक ओर सूबे के मुखिया योगी राज में सुराज यानी कुशल न्यायिक-कानूनी...

स्पेशल: ज्ञानवापी मामले में फव्वारे के पक्ष के लोगों की दलील, कहा-शिवलिंग में छेद नहीं होता

वाराणसी। बनारस के ज्ञानवापी मस्जिद में कथित ‘शिवलिंग’ की तरह की आकृति मिलने के बाद छिड़े चौतरफा विवाद के बीच एक बहस शुरू हो गई है। तकरार इस बात पर हो रही है कि विवादित स्ट्रक्चर आखिर है क्या-शिवलिंग...

ग्राउंड रिपोर्ट: मोदी के गृह राज्य ही नहीं चुनावी क्षेत्र में भी नशे का कारोबार परवान पर

वाराणसी। बनारस में साधु-सन्यासी और रिक्शा चालकों द्वारा सेवन किया जाने वाला गांजा, अब आम चलन में आ गया है। जो कभी घाटों पर चोरी छिपे इस्तेमाल किया जाता था, अब खुलेआम हो रहा है। मानों यह ट्रेंड बन...

गोरखधंधा: बिहार में सफेद बालू के काले खेल का गणित

सुपौल (बिहार)। बालू के अवैध खेल में दर्जनों सक्रिय गैंग काम करते हैं, जो लगातार पुलिस प्रशासन और बिहार सरकार को चुनौती देते रहते हैं। 'लाल' बालू के अलावा सफेद बालू की 'काली' कमाई का 'खेल' पूरे बिहार में...

ग्राउंड रिपोर्ट: सजल नेत्रों से अपने गांव को डूबते देख रहे हैं लोहारी के लोग

लोहारी (देहरादून)। बिजली के लिए देहरादून जिले के सुदूरवर्ती लोहारी गांव को बांध के पानी में जलसमाधि दे दी गई है। वह भी गांव वालों को बिना पूरा मुआवजा दिये और बिना उनके रहने की व्यवस्था किये। इस तरह...

स्पेशल रिपोर्ट: ओस चाट कर प्यास बुझाने वाली योजना में तब्दील होती मनरेगा  

रांची। एक तरफ केंद्र सरकार द्वारा पिछले कई वर्षों से मनरेगा मजदूरी दर में अति अल्प बढ़ोत्तरी की गई है, जो ऊंट के मुंह में जीरा के समान है। जो इस बात का सबूत है कि केंद्र की मोदी...

ख़ास रपट: नियमों की होती अनदेखी और मौत के बढ़ते आंकड़े! जवाबदेही आख़िर किसकी

"अगर सुपरवाइजर नहीं भागता और दूसरे लोगों को मदद के लिए बुला लेता तो आज मेरा भाई करन और पूरन मामा जिंदा होते उन्हें समय पर सीवर टैंक ईलाज मिल गया होता लेकिन उन्हें मरने के लिए छोड़ दिया...
- Advertisement -spot_img

Latest News

बर्बरता की गला काट होड़

राजस्थान के उदयपुर में एक दर्जी कन्हैयालाल की दो उन्मादियों द्वारा अत्यंत बर्बरता के साथ की गयी ह्त्या ने...
- Advertisement -spot_img