Tuesday, January 18, 2022

Add News

farmers

सपा की किसानों को सौगात: सभी फसलों के लिए एमसएपी, 300 यूनिट बिजली मुफ्त और पेंशन के साथ बीमा

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा को हराने और हटाने का 'अन्न संकल्प' लेते हुए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि उनकी पार्टी की सरकार आने पर न सिर्फ़ सभी फसलों के लिए एमएसपी...

बीकेयू अध्यक्ष नरेश टिकैत ने किया आरएलडी-सपा गठबंधन को जिताने का आह्वान

पिछले कुछ दिनों के अंदर सपा गठबंधन ने उत्तर प्रदेश में तेजी से भाजपा पर बढ़त हासिल की है। अंत में जीत या हार किसकी होगी, यह तो अभी भी भविष्य के गर्भ में है, लेकिन सपा गठनबंधन की...

किसान मोर्चा 31 जनवरी को देश भर में मनाएगा ‘विश्वासघात दिवस’

नई दिल्ली। आज दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर हुई संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में मोर्चे के कार्यक्रम व भविष्य की दिशा पर कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। मोर्चे ने घोर निराशा और रोष व्यक्त किया कि भारत सरकार...

किसान आन्दोलन से क्या पश्चिमी यूपी में भाजपा का गढ़ बच पायेगा?

पश्चिमी यूपी में किसान आंदोलन के बाद राजनीतिक हालात पूरी तरह बदल गये हैं। भाजपा के हाथों से जाट और गुर्जर वोट बैंक पूरी तरह खिसका नजर आ रहा है और विपक्ष के पाले में अर्थात अखिलेश–जयंत गठबंधन के...

मुलताई पुलिस गोलीकांड के 24 वर्ष बाद भी जारी है किसान आंदोलन

12 जनवरी, 1998 का दिन किसानों की स्मृति में अमिट छाप छोड़ गया क्योंकि इस दिन मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने अतिवृष्टि से फसल नष्ट हो जाने के कारण मुआवजा और फसल बीमा की मांग को लेकर किसान...

किसानों की नजरें 15 जनवरी पर

अब बस कुछ ही दिन बचे हैं, किसान व उनके समर्थक 15 जनवरी के इंतजार में हैं। उस दिन, ऐतिहासिक किसान आंदोलन का नेतृत्व कर रहा संयुक्त किसान मोर्चा दिल्ली में मिलेगा। वहां वह पिछले नवंबर में कृषि संबंधी...

फिरोजपुर रैली: विजय के बाद किसान आंदोलन के खिलाफ षड्यंत्र

पिछले दिनों कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने जब यह कहा था की उचित समय आने पर कृषि कानून पुनः वापस लाए जाएंगे तो मैंने लिखा था किसान आंदोलन के खिलाफ षड्यंत्र जारी है। 5 तारीख की फिरोजपुर में होने...

मोदी की सुरक्षा नहीं, महाबली की छवि खतरे में थी

2001 में गुजरात भुज भूकंप के तीसरे दिन ही तत्कालीन प्रधानमन्त्री अटल बिहारी वाजपेयी वहां के दौरे पर गए| सब कुछ, सुरक्षा व्यवस्था भी, अस्त-व्यस्त, और तत्कालीन मुख्यमंत्री केशूभाई पटेल और उनकी कुर्सी हिलाने में लगे नरेंद्र मोदी के...

कारपोरेट शक्ति पर लोक शक्ति की विजय का वर्ष

देश के किसानों के लिए यह वर्ष ऐतिहासिक आंदोलन की सफलता का वर्ष रहा। वर्ष की शुरुआत बॉर्डरों पर किसान आंदोलन पर सरकारों के बेबुनियाद आरोपों और फ़र्ज़ी मुकदमों से हुई। बॉर्डरों पर किसानों को हमले भी झेलने पड़े।...

कृषि कानूनों के फिर आने का बरकरार है खतरा

19 नवंबर को किसान आंदोलन के दबाव में तीन कृषि कानूनों को एक तरफा प्रधानमंत्री द्वारा घोषणा करके वापस लेने का ऐलान किया था। तो मैंने पहली टिप्पणी लिखते हुए कहा था कि, सावधानी हटी दुर्घटना घटी। उस टिप्पणी...
- Advertisement -spot_img

Latest News

हरिद्वार धर्मसंसद और जेनोसाइड वॉच की चेतावनी

हरिद्वार धर्म संसद में घृणावादी और भड़काऊ बयान देने वाले यति नरसिंहानंद को उत्तराखंड पुलिस से गिरफ्तार कर लिया...
- Advertisement -spot_img